Covid-19 Update

19,357
मामले (हिमाचल)
16,548
मरीज ठीक हुए
271
मौत
7,602,414
मामले (भारत)
40,747,420
मामले (दुनिया)

इतना लाभकारी है सेंधा नमक, क्या आप जानते हैं इसके फायदे

इतना लाभकारी है सेंधा नमक, क्या आप जानते हैं इसके फायदे

- Advertisement -

सेंधा नमक (Rock salt) सबसे शुद्ध नमक माना जाता है, क्योंकि इसमें मिलावट और रसायन नहीं होते हैं। बहुत कम लोग जानते हैं कि यह नमक सिर्फ एक मसाला नहीं है बल्कि इसमें सारे तत्व शामिल हैं, जो एक शरीर की जरूरत होते हैं। जैसे की लोहा, कैल्शियम, पोटेशियम, जिंक और भी बहुत कुछ सेंधा नमक में मौजूद होता हैं। सेहत (Health) के हिसाब से ज्यादा नमक खाना कई बीमारियों की वजह बन सकता है, लेकिन आपको जानकर बहुत हैरानी होगी कि आयुर्वेद में सेंधा नमक को स्वास्थ के लिए बेहद फायदेमंद माना गया है।

यह भी पढ़ें :-बरसात के मौसम से रखें सेहत का ख्याल, खाएं ये फल और सब्जियां


सेंधा नमक का रासायनिक नाम सोडियम क्लोराइड (sodium chloride) है। इसे आमतौर पर तेलुगू में ‘रती अपपू’, तमिल में ‘इंटुपू’, मलयालम में ‘कल्लू अपपू’, कन्नड़ में ‘कल्लुपू’, ‘शेंडे लोन’ मराठी में, गुजराती में ‘सिंधलुन’ और बंगाली में ‘साइनधाव लावन’ कहा जाता है। सेंधा नमक अधिकतर रंगहीन या सफ़ेद होता है, हालांकि इसमें मौजूद अशुद्धियों के कारण यह हल्के नीले, गहरे नीले, लाल, नारंगी या पीले रंग का भी हो सकता है। जानते हैं हिमालयन सॉल्ट (सेंधा नमक) के इस्तेमाल से होनेवाले फायदे, जिसे जानकर आप इस नमक को अपने किचन का हिस्सा जरूर बनाना चाहेंगे …

अगर आप अपने शरीर के वजन को कंट्रोल में रखना चाहते हैं तो फिर ये नमक आपके लिए एक बेहतर विकल्प है। इसके सेवन से मसल्स के कामकाज में सुधार आता है और उन्हें मजबूती मिलती है। इतना ही नहीं इससे मांशपेशियों की ऐंठन भी कम होती है।

हिमालयन साल्ट के पानी से नहाने से हड्डियों और नसों की सूजन को कम करने में मदद मिलती है। इससे मानसिक स्वास्थ्य भी अच्छा होता है। इतना ही नहीं इससे शरीर की खुजली और अनिद्रा की शिकायत भी दूर होती है।

हिमालयन सॉल्ट वेरिकॉज वेन्स, कमर दर्द, टखनों व पैरों की सूजन के रोकथाम में मदद करता है। इसे खाने से शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का सही संतुलन बनाए रखने में मदद मिलती है।

हिमालयन सॉल्ट से कुल्ला करने पर ओरल हेल्थ में सुधार होता है। सर्दी-खांसी से पीड़ित लोगों को इससे कुल्ला करने से बलगम से राहत मिलती है और फेफड़े साफ होते हैं।

हिमालयन साल्ट आपके तनाव को कम करता है और आपको मानसिक शांति प्रदान करता है। इस पानी से स्नान करने के बाद आप ज्यादा शांत, खुश और तरोताजा महसूस करते हैं।

हिमालयन साल्ट में मैग्नीशियम, कैल्शियम, ब्रोमाइड, सोडियम जैसे मिनरल और पोषक तत्व पाए जाते हैं जो सेहत और त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

मिनरल्स से भरपूर इस नमक को खाने से नर्व कंडक्टिविटी और कम्युनिकेशन में सुधार होता है। इससे शरीर को स्ट्रेस और टेंशन से राहत मिलता है।

मिनरल्स और पोषक तत्वों से भरपूर इस हिमालयन सॉल्ट के सेवन से आप ना सिर्फ हेल्दी और फिट रहेंगे बल्कि इस नमक के पानी से नहाकर आप अपने शरीर की कई तकलीफों से भी निजात पा सकते हैं।

सेंधा नमक खराब पाचन के उपचार में काफी प्रभावी होता है। ये एक औषधि की तरह काम करता है जिससे पाचन में सुधार आता है। ये आपके भूख और गैस में भी राहत देता हैं।

रोजाना सेंधा नमक खाने से आपके शरीर के खोए हुए इलेक्ट्रोलाइट्स को फिर से भरता है और पीएच स्तर को नियंत्रित रखता है। ये रक्त परिसंचरण को उत्तेजित करता है और शरीर में मौजूदा गंदगी और टॉक्सिक मिनरल्स को बहार निकाल देता है।

यह भी पढ़ें :-मानसून में इन बातों पर देंगे ध्यान तो नहीं होगी हेल्थ प्रॉब्लम

ये आपके रक्तचाप के स्तर का संतुलन बनाए रखता है। सेंधा नमक कई दाद और कीड़े के काटे हुए और गठिया के दर्द से रोगों के उपचारो से निजात दिलाता है। ये हर भारतीय घरों में पाया जाता हैं।

आप शायद इस तथ्य को जानकर चौंक जाएं कि सेंधा नमक वजन कम करने में मदद करता हैं। ये शरीर के फैट सेल्स को कम कर देता है।

जब सेंधा नमक नींबू के रस के साथ लिया जाता है तो पेट के कीड़ो से आराम मिलता है और उल्टियों को भी रोकता है।

सेंधा नमक की बनी हुई नमकीन और झरने का पानी जीर्ण गाठिया, पथरी से राहत प्रदान करता है।

अगर अक्सर आपके मांसपेंशियों में ऐंठन होती है तो सेंधा नमक आपको राहत पहुंचा सकता है। इसके लिए एक गिलास पानी में थोड़ा सा सेंधा नमक मिला कर पिएं।

जो लोग साइनस और सांस की समस्या से पीड़ित है उन्हें रोजाना सेंधा नमक का सेवन करना चाहिए। सेंधा नमक से गार्गिल करने से गले में सूजन, दर्द, सूखी खांसी और टॉन्सिल से राहत मिलती है। जो लोग ब्रोंकाइटिस, दमा या सांस की अन्य समस्याओं के शिकार है वो सेंधा नमक की भाप ले सकते हैं।

सेंधा नमक जरूरी मिनर्लस प्रदान करता है और आपके इम्यून सिस्टम को सुधारता हैं। इसके अलावा ये संचार, श्वसन और तंत्रिका तंत्र को एक हद तक सुधारता है।

सेंधा नमक आपके दातों को सफेद करता और मुंह के फ्रेशनर के तौर पर इस्तेमाल होता है। आप खराश के लिए इस नमक से गार्गिल भी कर सकते हैं।

सेंधा नमक प्रभावी ढंग से पाचन और लार के रस को स्वस्थ बनाए रखता है। आप सामान्य नमक की बजाय अपने खाने में सेंधा नमक का इस्तेमाल कर सकते हैं।

नमक को और प्रभावी बनाने के लिए आप तांबे के बर्तन में स्टोर कर सकते है जब तक वो लाल ना हो जाए।

सेंधा नमक हड्डियों और टीशूज को मजबूत बनाता है। सेंधा नमक को खूबसूरती बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। इसके इस्तेमाल से आपके शरीर की मृत त्वचा से छुटकारा मिलता है।

आप अपने शरीर को पोषण पहुंचाने के लिए भी सेंधा नमक का इस्तेमाल कर सकते है। चेहरे को साफ करने के अलावा सेंधा नमक आपके त्वचा के टीशूज को मजबूत बनाता है और आपको जवां दिखाने में मदद करता है।

सेंधा नमक को आप पैरों के स्क्रब के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए बस आपको आधी बाल्टी गुनगुने पानी में 2 चम्मच सेंधा नमक मिलाना है और उसमें अपने पैरों को डाल दें। इस पानी में अपना पसंदीदा कोई सा भी तेल ड़ाल सकते हैं।

इसके अलावा आप अपने क्लींनजर की जगह सेंधा नमक का इस्तेमाल कर सकते है जिसमें क्लीनजर के गुण समाए हुए है। सेंधा नमक जमी गंदगी और अतिरिक्त तेल बहार निकाल देते है। क्लींनजर बनाने के लिए आप अपने क्लींनजर में सेंधा नमक को मिला लें और साफ करने के बाद अपने चेहरे को धो लें।

अगर आपके नाखून पीले पड़ गए हैं या फिर उसके रंग में बदलाव आ गया है तो आप सेंधा नमक की मदद से अपने खोए हुए रंग को पा सकते है। इससे आपके नाखूनों की खोई हुई चमक भी वापस आ जाएगी।

अगर आप स्केल्प की परेशानी के शिकार है जैसे कि आपके सर में खुजली या फिर डैंड्रफ है तो आप सेंधा नमक से छुटकारा पा सकते हैं। इसके एक्सफोलिएटिंग गुण के कारण आप स्केल्प की मृत त्वचा से छुटाकार पा सकते है। इसके लिए आप अपने शैम्पू की बोतल में 1 कप समुद्री नमक मिला कर रख दें और फिर उसी शैम्पू से अपना सर धो लें। इसके इस्तेमाल से आपको अपने डैंड्रफ में फर्क नजर आएगा।

पंडित दयानंद शास्त्री, उज्जैन (म.प्र.) (ज्योतिष-वास्तु सलाहगाड़ी) 09669290067, 09039390067

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Solan में कुमार बेकरी में भड़की आग, सामान जल कर राख

#Facebook पर घंटों समय बिताने की आदत से हैं परेशान; तो जरूर पढ़ें ये खबर

#Coronavirus से बचाएगा गिलोय, इस चमत्कारी पत्ते का ड्रिंक सुधारेगा इम्यून सिस्टम

इस गांव में कुछ दिन गुजार ले कोई इंसान तो हो जाता है बुद्धिमान

Himachal: बदलने लगा मौसम, ठंडी होने लगी रातें-मैदानी क्षेत्रों में अभी भी निकल रहा पसीना

हिमाचलः जयराम सरकार ने बदले ये BDO, किसे कहां भेजा-जानिए

कोरोना अपडेटः Himachal में 222 मामले और 216 हुए ठीक- बिलासपुर में दो की मृत्यु

#Himachal में सात जिलों के DC बदले : आदित्य नेगी को शिमला, देबश्वेता बनिक को सौंपा Hamirpur

आपके पास हैं 5-10 रुपए के खास सिक्के तो आप भी बन सकते हैं लखपति, पढ़िए पूरी खबर

इस शहर में रहते हैं सिर्फ 2 लोग फिर भी करते हैं #Corona से बचाव के नियमों का पूरा पालन

बिना कुछ खाए भी कई साल तक जिंदा रह सकता है यह अजीबोगरीब जीव

Gurugram में मीटिंग के बहाने युवती से किया गलत काम, जान से मारने की धमकी भी दी

School तो खुले पर छात्रों की हाजिरी ना के बराबर, अभिभावक नहीं दिखा रहे दिलचस्पी

पंगा लेने वाली #KanganaRanaut पहुंची पालमपुर, Shanta को दिया भाई की शादी का न्योता

Himachal की इस ITI में पहले आओ, पहले पाओ के आधार पर हो रही एडमिशन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

जवाहर नवोदय विद्यालय कक्षा 6 का #Entrance_Exam अब 7 नवंबर को

स्कूलों के बाद अब Colleges खोलने की तैयारी, नवंबर से आएंगे Practical विषयों के छात्र

TET Exam में इन अभ्यर्थियों को मिली छूट, बिना आवेदन दे सकेंगे परीक्षा, बस करना होगा ये काम

#Himachal में School खोलने की तैयारी में सरकार, क्या रहेगा प्लान पढ़े यहां

Big Breaking: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने टैट परीक्षा का शेड्यूल किया जारी- जानिए

#HPBose: 9वीं, 10वीं, 11वीं और 12वीं कक्षाओं के छात्रों को बड़ी राहत- पढ़ें खबर

हिमाचल में 100% मास्टर जी लौट आए #School, बनने लगा स्टूडेंट्स के लिए माइक्रो प्लान

SMC शिक्षकों को बड़ी राहत, #Supreme_Court ने हिमाचल हाईकोर्ट के फैसले पर लगाई रोक

गोविंद ठाकुर बोले- #Himachal में स्कूल खोलने हैं या नहीं, 9 को होगा फैसला

शिक्षा विभाग ने तैयार किया #Himachal में स्कूल खोलने का प्रस्ताव; जानें क्या है योजना

D.El.Ed CET 2020: 12 से 23 अक्टूबर तक होगी स्क्रीनिंग, अभ्यर्थी करें ऐसा

Himachal में 530 हेड मास्टर और लेक्चरर बने प्रिंसिपल, पर वेतन बढ़ोतरी को करना होगा इंतजार

बिग ब्रेकिंगः हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने आठ विषयों की TET परीक्षा का Result किया आउट

#HPBose: बोर्ड ने छात्र हित में लिया फैसला, 30 तक बढ़ाई यह तिथि

पहली से आठवीं कक्षाओं के छात्रों की ऑनलाइन परीक्षाओं की Datesheet जारी



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है