बदलते मौसम के साथ बढ़ता है बीमारी का खतरा, ऐसे रखें ख्याल

बदलते मौसम के साथ बढ़ता है बीमारी का खतरा, ऐसे रखें ख्याल

- Advertisement -

मौसम बदल रहा है और ऐसा समय सेहत के लिए ठीक नहीं होता। आजकल सुबह और रात में जहां ठंडी हवाएं सुकून दे रही हैं तो वहीं दिन में गर्म हवा परेशान कर रही है। इस सर्द-गर्म मौसम (Weather) के कारण अस्पताल में बुखार, खांसी-जुखाम और गले में इंफेक्शन (Throat infection) के मरीज बढ़ गए हैं। आपको भी ऐसे मौसम में ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। हम आपको कुछ काम के टिप्स (Tips) बताने जा रहे हैं जिससे आप खुद का और अपने परिवार का ख्याल रख सकते हैं।



यह भी पढ़ें :- दबंग खान की इस खास सलाह से दमकी वरुण धवन की स्किन, अब जाकर खुला राज

ऐसे समय में कपड़ों को लेकर खास सावधानी बरतने की जरूरत है। ऑफिस या घर (Office or house) में चलता एसी और बाहर निकलने पर बढ़ा हुआ तापमान आपके शरीर पर बुरा असर डालता है। इस एक्पोजर से आप बीमार पड़ सकते हैं। ऐसे में अपने कपड़ों को लेकर सावधानी रखें। कोशिश करें कि ऑफिस में आप फुल-स्लीव्स की शर्ट या स्टोल ओढ़ें ताकि बॉडी की गर्माहट बनी रहे और बाहर निकलने पर उसे एकदम से तापमान (Temperature) में बदलाव के कारण परेशानी न हो।

चाहे पानी हो या फिर कोल्डड्रिंक या जूस ही क्यों न हो बेहतर होगा कि आप इनका सेवन तब करें जब इनकी ठंडक निकल जाए। माना गर्मी में ठंडे पेय (Cold drink) बहुत अच्छे लगते हैं, लेकिन यह बीमारी की जड़ भी बनते हैं। खासतौर पर गले के लिए ये बिल्कुल भी अच्छे नहीं हैं।

बाहर बढ़ती गर्मी में आइसक्रीम (Ice Cream) का मजा लेने का मन है तो कुछ दिनों के लिए इसे टाल दें। सर्द-गर्म होते मौसम में आपके गले पर इसका प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।

गले में दर्द को भूल से भी न करें इग्नोर। बीमारी की ओर पहला इशारा यही होता है।


यह भी पढ़ें :- अगर आप भी AC खरीदने की कर रहे प्लानिंग तो जरूर पढ़ें ये खबर

बॉडी को हाइड्रेट (Hydrate) रखें। ठंडी हवाएं भले ही आपको अच्छा फील करवा रही हों, लेकिन शरीर में पानी की कमी आपको दिन में बढ़े हुए तापमान के सामने कमजोर बना देती है, जो बीमारियों को न्योता है।

खान-पान का विशेष ध्यान रखें। कोशिश करें कि आप बाहर का कुछ न खाएं, इससे आप पेट और गले से संबंधित समस्याओं से बच सकेंगे।

गले में परेशानी हो या फिर हल्का सा भी बुखार आए तो बेहतर होगा कि घरेलू इलाज (Home remedies) की जगह आप डॉक्टर को दिखाएं। बीमारी के बढ़ने का इंतजार न करें।

आपके आसपास यदि किसी को खांसी या जुखाम है तो उससे दूरी बनाए रखें। माना आपके रिश्ते (Relations) कितने ही अच्छे हों, लेकिन यह भी सच है कि बीमार होने पर परेशानी आपको ही झेलनी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

मौसम: भारी बारिश लगी रंग दिखाने, कहीं पेड़ गिरे तो कहीं मकान- दुकानों में भी घुसा पानी

बिग ब्रेकिंगः हिमाचल में अफसरशाही की फेंट के साथ ट्रांसफर पर लगी रोक

भागसूनागः लैंडस्लाइड में गंभीर घायल 8 माह की बच्ची की टांडा में मौत

यहां भरे जाएंगे कॉलेज प्रवक्ता और शास्त्री अध्यापकों के 10 पद, जाने क्या है योग्यता

जमीनी विवाद को लेकर भिड़े दो गुट, एक का फूटा सिर-आधा दर्जन घायल

हादसेः सोलन में जीप तो हमीरपुर में गिरा ट्रक, एक की मौत-दो घायल

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित का निधन, राहुल बोले- खबर से टूट गया हूं

सत्ती बोलेः घर पर बैठी हुई थीं इंदु, हमने बनाया महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष

विवादों के बीच शिमला में जयराम से मिले ध्वाला, क्या हुई बात-जानिए

शिक्षा बोर्ड ने एसओएस परीक्षाओं के लिए पंजीकरण तिथियों का किया ऐलान

कार से उतरते ही टाटा सूमो से टकराई 4 साल की मासूम, मौत

हिमाचल-हरियाणा समेत चार राज्यों में डोली धरती, जानें कितनी थी तीव्रता

छात्रा को मैसेज कर करता था परेशान, परिजनों ने कॉलेज पहुंचकर की धुनाई

यूपी में राम नाईक की जगह "इस बड़े नाम वाली महिला" को बनाया गया राज्यपाल

कांग्रेस कार्यालय से चंद कदम पर "प्रियंका मसले" पर प्रदर्शन,मोदी-योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है