Covid-19 Update

35,812
मामले (हिमाचल)
28,045
मरीज ठीक हुए
572
मौत
9,221,998
मामले (भारत)
60,102,811
मामले (दुनिया)

आज ही अपना लें ये नुस्खे, Covid-19 संक्रमण से बच जाएंगे

आज ही अपना लें ये नुस्खे, Covid-19 संक्रमण से बच जाएंगे

- Advertisement -

शिमला। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग, मानव संसाधन विकास केंद्र एवं इंडियन काउंसिल फॉर फिलास्फिकल रिसर्च नई दिल्ली के तत्वावधान में बीपीएस महिला विश्वविद्यालय हरियाणा द्वारा योग एवं जीवन शैली के माध्यम से कोविड में तनाव मुक्ति विषय पर आयोजित एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला के समापन सत्र में डॉ. राकेश पंडित ने बताया कि नियमित योग अभ्यास, प्राणायाम, ध्यान केंद्रित श्वास-श्वास आदि के माध्यम से कोविड-19 (Covid-19) संक्रमण में तनाव, चिंता एवं अवसाद से बचा जा सकता है।


राष्ट्रीय कमीशन फॉर इंडियन सिस्टम ऑफ मेडीसिन के बोर्ड ऑफ गवर्नरस के सदस्य डॉ राकेश पंडित (Dr. Rakesh Pandit) ने बताया कि खाना पकाने में प्रयोग की जाने वाली ताजा शाक वनस्पतियों (जडी-बूटी क्यूलनरी हर्बस) के नियमित प्रयोग से कोरोना महामारी में अपनी रोगप्रतिकारक शक्ति-इम्यूनिटी को बढा कर सुरक्षित रहा जा सकता है। पुदीना, तुलसी पत्र, कालाजीरा, अदरक, प्याज, लहसुन, हरी/लाल/काली मिर्च, अजवायन के पत्ते, कढ़ी पत्ता, सोंफ, धनिया, अनारदाना, छोटी-बडी इलायची, तेजपत्ता, दालचीनी, लोंग आदि अनेकों वनस्पतियां हैं जिनका खाना पकाने में नियमित प्रयोग कर हम अपनी इम्यूनिटी बढ़ा सकते हैं।

विटामिन ‘सी’ की कमी को दूर करने के लिए 2-3 आंवला, नींबू का प्रतिदिन सेवन आवश्यक है। प्रातः सूर्य की किरणों में 15-20 मिनट बैठना या टहलना विटामिन डी की भरपाई करेगा, क्योंकि जिन व्यक्तियों में विटामिन सी और डी पर्याप्त मात्रा में रहती है उनको कोरोना संक्रमण का खतरा अन्य की अपेक्षा काफी कम पाया गया है। उन्होंने ने योग पर हुए प्रमाणिक शोधों के बारे में कहा कि देश विदेश में योग पर हुए अनुसंधानों ने यह सिद्ध कर दिया है कि 20-40 मिनट प्रतिदिन योगाभ्यास करने से हृदय की गति, सांस की गति, रक्तचाप, शारिरिक एवं मानसिक स्टिफनैस, तनाव-चिंता-निराशा, नकारात्मकता कम होती है अपितु फेफड़ों की श्वास क्षमता (Vital Capacity) शरीर और मन का लचीलापन, प्रसन्नता-आनंद की अनुभूति, याददाश्त तथा मानसिक क्षमताओं में वृद्धि पाई गई है।

टेक होम संदेश में उन्होंने कहा कि अनलॉक काल खंड में कोरोना से भयभीत होने के बजाए, सतर्क होने की आवश्यकता है। अनेकों ऐसे व्यक्ति हैं जो कोरोना पॉज़िटिव होने के बाद भी बिना किसी विशेष दवा के ताजा घर का पका शुद्ध, पौष्टिक एवं शाकाहारी भोजन (Vegetarian meal), तुलसी आदि सामान्य औषधीय वनस्पतियों, आयुर्वेदिक काढा़ सेवन तथा समय-समय पर सरकार द्वारा सुझाए निर्देशों का पालन कर होम क्वारंटाइन में रह कर कोरोना मुक्त हो चुके हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है