Covid-19 Update

40,518
मामले (हिमाचल)
31,548
मरीज ठीक हुए
636
मौत
9,463,254
मामले (भारत)
63,589,301
मामले (दुनिया)

रोटी या चावल ? जानें डायबिटीज के मरीज क्या खाएं तो रहे सेहतमंद

रोटी या चावल ? जानें डायबिटीज के मरीज क्या खाएं तो रहे सेहतमंद

- Advertisement -

डायबिटीज यानि शुगर के मरीजों को अपनी डाइट का खास ख्याल रखना बेहद जरूरी होता है। थोड़ी सी भी लापरवाही भी खतरनाक साबित हो सकती है। डायबिटीज के मरीजों को यह ध्यान देने की ज्यादा जरूरत है कि उन्हें खाने में क्या चीज शामिल करनी है और क्या नहीं। 

क्या खाएं और कितना ?

डायबिटीज के मरीजों को अपने ब्लड शुगर के स्तर को कंट्रोल में रखने के लिए ग्लाइसिमिक इंडेक्स का ज्ञान होना बेहद जरूरी है। डायबिटीज के मरीजों को उन्हीं चीजों का सेवन करना चाहिए जिनमें ग्लाइसिमिक इंडेक्स का स्तर 55 से कम होता है। इससे ब्लड शुगर पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता है साथ ही ये डायबिटीज के मरीजों के लिए सबसे सही होती हैं।

ब्राउन राइस खाना बेहतर

अलग-अलग तरह के चावलों में ग्लाइसिमिक इंडेक्स भी अलग पाया जाता है। चावल का ग्लाइसिमिक इंडेक्स उसके पॉलिश पर निर्भर करता है जबकि रोटी का ग्लाइसिमिक इंडेक्स उसके आटे पर निर्भर करता है। ब्राउन राइस में ग्लाइसिमिक इंडेक्स का स्तर 68 होता है, जबकि व्हाइट राइस में इसकी मात्रा 73 होती है। यूं तो डायबिटीज के मरीज सभी तरह के चावल खा सकते हैं, लेकिन ब्राउन राइस व्हाईट राइस की तुलना में ज्यादा फायदेमंद होते हैं। व्हाइट राइस में स्टार्च की मात्रा ज्यादा होती है, जिस वजह से ये जल्दी डाइजेस्ट हो जाते हैं। वहीं ब्राउन राइस में विटामिन, मिनरल्स और फाइबर की मात्रा ज्यादा पाई जाती है जिस कारण ये देर से डाइजेस्ट होते हैं।

मक्के और बेसन के आटे वाली रोटी खाएं

रोटी की बात की जाए तो इसे बनाने के लिए कई तरह के आटे का इस्तेमाल किया जाता है। इनमें सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला गेहूं का आटा है। गेहूं के आटे में ग्लाइसिमिक इंडेक्स का स्तर 62 होता है। गेहूं के मुकाबले बार्ली और मक्का के आटे से बनी रोटी ज्यादा हेल्दी होती है। मक्का और बेसन के आटे से बनी रोटी में ग्लाइसिमिक इंडेक्स का स्तर 52 होता है, जो सबसे कम है। अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं तो आपके लिए बेसन और साबुत अनाज के आटे से बनी रोटी सबसे ज्यादा फायदेमंद रहेगी।

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है