Covid-19 Update

2,27,405
मामले (हिमाचल)
2,22,756
मरीज ठीक हुए
3,835
मौत
34,615,757
मामले (भारत)
264,798,834
मामले (दुनिया)

आज रात से बदल जाएंगे शराब की दुकानों के नियम, 600 सरकारी शराब के ठेके होंगे बंद

बुधवार से पूरी तरह से शराब का कारोबार चला जाएगा निजी हाथों में

आज रात से बदल जाएंगे शराब की दुकानों के नियम, 600 सरकारी शराब के ठेके होंगे बंद

- Advertisement -

नई दिल्ली। दिल्ली (Delhi) की केजरीवाल सरकार औपचारिक रूप से शराब के कारोबार से हाथ धोने जा रही है। उसके द्वारा संचालित लगभग 600 सरकारी ठेके आज रात से बंद हो जाएंगे। वहीं, नई आबकारी नीति के तहत बुधवार सुबह से शराब की खुदरा दुकानों का संचालन प्राइवेट सेक्टर के हाथों में होगा।

इधर, कहा जा रहा है कि दिल्ली सरकार के इस कदम से राजधानी में शराब की कमी हो सकती है। क्योंकि बुधवार से सभी 850 नए निजी ठेके एक बार में शुरू होने की संभावना नहीं है। वहीं, 32 जोन में सभी आवेदकों को लाइसेंस वितरित किए गए हैं, लेकिन नई आबकारी व्यवस्था के पहले दिन लगभग 300-350 दुकानों के संचालन शुरू होने की संभावना है।

यह भी पढ़ें: प्रदूषण से बेहाल दिल्ली: क्या लॉकडाउन है अंतिम उपाय, जानिए क्या कहते हैं पर्यावरण मंत्री

मिली जानकारी के अनुसार, करीब 350 दुकानों को प्रोविजनल लाइसेंस जारी किया गया है। जिसमें से 200 से ज्यादा ब्रांड 10 होलसेल लाइसेंस धारकों के साथ पंजीकृत हैं और उन्होंने अभी तक विभिन्न ब्रांड की नौ लाख लीटर शराब खरीदी है। हालांकि, अधिकारियों ने बताया कि धीरे-धीरे सभी 850 शराब की दुकानें संचालित होने लगेंगी और और फिर कोई कमी नहीं रहेगी।

अधिकारियों के मुताबिक, यह पहली बार होगा जब दिल्ली में सरकार द्वारा संचालित सभी शराब की दुकानें बंद रहेंगी और कारोबार पूरी तरह से निजी हाथों में चला जाएगा। दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के तहत निजी तौर पर चलने वाली 260 दुकानों समेत सभी 850 शराब की दुकानें खुली निविदा के जरिए निजी फर्मों को दी गई हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है