Covid-19 Update

2,05,874
मामले (हिमाचल)
2,01,199
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,579,651
मामले (भारत)
197,642,926
मामले (दुनिया)
×

गलगल का पेड़ बना कत्ल की वजह, छोटे ने बड़े भाई को उतारा मौत के घाट 

गलगल का पेड़ बना कत्ल की वजह, छोटे ने बड़े भाई को उतारा मौत के घाट 

- Advertisement -

सुंदरनगर। उपमंडल सुंदरनगर के चरखड़ी (निहरी) में छोटे भाई ने बड़े भाई को एक पेड़ के लिए मौत के घाट उतार दिया। मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी को  बीएसएल पुलिस थाना प्रभारी कमल कांत की टीम ने मंगलवार सुबह सुंदरनगर बस स्टैंड से हिरासत में ले लिया है। जानकारी अनुसार सोमवार को निहरी के चरखड़ी गांव में जमीन पर एक पेड़ के मालिकाना हक को लेकर दो भाईयो में विवाद हो गया, जिस पर छोटे भाई ने तैश में आकर बड़े भाई पर डंडे से हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया और घटना स्थल से फरार हो गया।
बताया जा रहा है कि दोनों भाईयो में लंबे समय से जमीनी विवाद चल रहा था। सोमवार शाम को फैसला पंचायत के सामने चल रहा था और फैसला अंतिम रूप तक पहुंच चुका था। लेकिन, एक गलगल के पेड़ के लिए दोनों भाईयों में बहस शुरू हो गई। जिस में छोटे भाई पदम देव पुत्र स्व धनी राम ने बड़े भाई से कहा कि लंबे समय से वह पेड़ से गलगल तोड़ रहा है, जिस पर बड़े भाई ओम प्रकाश ने कहा कि घर में मौजूद माता को इस के बारे में पूछा जाए तो सभी ने माता से पूछने का फैसला लिया। जैसे ही घर में बीमार माता के सामने पहुंचे उसी समय छोटे भाई पदम देव (42) ने बड़े भाई ओम प्रकाश (56) पर डंडे से हमला कर उसे घायल कर दिया और वहां पर मौजूद लोगों ने उसे तुरंत निहरी अस्पताल पहुंचाया। जहां से चिकित्सकों ने उसकी नाजुक हालत को देखते हुए आईजीएमसी शिमला रेफर कर दिया, जहां उसने देर रात दम तोड़ दिया।
वहीं, बड़े भाई की मौत की सूचना मिलते ही छोटा भाई पत्नी संग घर से फरार हो गया। लेकिन, पुलिस ने उन्हें सुंदरनगर बस स्टैंड पर दबोच लिया। वहीं, मंगलवार को एसपी मंडी गुरदेव शर्मा और डीएसपी सुंदरनगर तरनजीत सिंह मामले की छानबीन को स्वयं घटना स्थल पर पहुंचे और तथ्य जुटाए। वहीं, पुलिस  मामला दर्ज कर छानबीन में जुटी हुई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है