Covid-19 Update

1,98,551
मामले (हिमाचल)
1,90,377
मरीज ठीक हुए
3,375
मौत
29,505,835
मामले (भारत)
176,585,538
मामले (दुनिया)
×

राज्यों व जनता की स्थिति से अनजान नौकरशाह North Block में बैठकर नीतियां बना रहे: सिब्बल

राज्यों व जनता की स्थिति से अनजान नौकरशाह North Block में बैठकर नीतियां बना रहे: सिब्बल

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच राजनीयिक बयानबाजी का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ करारा हमला बोला है। कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने कहा है, ‘नॉर्थ ब्लॉक में बैठे नौकरशाह नीतियां बना रहे हैं जबकि उन्हें राज्यों और आम लोगों की स्थिति की जानकारी नहीं है।’ उन्होंने कहा, ‘जनता का तो 40 दिन का लॉकडाउन का हो गया, इस बीच इकोनॉमी का लॉकआउट हो गया।’

यह भी पढ़ें: तमिल News चैनल के 25 कर्मचारी पाए गए Covid-19 पॉजिटिव, सस्पेंड करना पड़ा Live प्रोग्राम

बकौल सिब्बल, आपदा प्रबंधन कानून के तहत सरकार को एक राष्ट्रीय योजना बनानी चाहिए। पार्टी के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने यह भी कहा कि लॉकडाउन (Lockdown) के समय में ‘अर्थव्यवस्था का लॉकआउट’ हो गया है और ऐसे में सरकार को कदम उठाने की जरूरत है। कांग्रेस नेता के मुताबिक कोविड-19 के बाद नया हिंदुस्तान बनाना है। हम सब मिलजुलकर देश को आगे बढ़ाएं। उन मुद्दों पर ध्यान दें जो देश को आगे बढ़ाने वाले हैं। इनमें शिक्षा और स्वास्थ्य महत्वपूण मुद्दे हैं। प्रधानमंत्री बताएं कि इन पर उनकी योजना क्या है।


उन्होंने कहा, ‘पीएम आत्मनिर्भर होने की बात करते हैं। अगर भारत को आत्मनिर्भर होना है, यह कैसे होगा? हम तो बाहर की कंपनियों पर निर्भर हैं। ज्यादातर कपंनियां तो बाहर हैं।’ सिब्बल ने कहा, ‘कच्चे तेल का दाम 20 डॉलर हो गया है और पेट्रोल एवं डीजल की कीमत वही बनी हुई है। आप इसका फायदा जनता को क्यों नहीं दे रहे हैं?’ सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में वृद्धि रोकने का उल्लेख करते हुए उन्होंने सवाल किया कि यह कदम क्यों उठाया गया? उन्होंने आपदा मोचन अधिनियम-2005 का हवाला देते हुए कहा, ‘इस कानून के मुताबिक एक राष्ट्रीय प्राधिकरण होता है जिसमें नौ मनोनीत सदस्य होते हैं इसकी अध्यक्षता पीएम करते हैं। इसके तहत एक राष्ट्रीय योजना बनानी होती है।’ सिब्बल ने सरकार से आग्रह किया, ‘हमारी सलाह है कि जल्द से जल्द एक राष्ट्रीय योजना बनाइए।’ सिब्बल के अनुसार इस कानून के तहत लोगों को दी जाने वाली सुविधाएं भी लिखित हैं। लेकिन सरकार की तरफ से कोई कदम नहीं उठाया गया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है