Expand

सूर्य पूजा से मिलेगा धन लाभ

सूर्य पूजा से मिलेगा धन लाभ

- Advertisement -

ऋग्वेद में सूर्य सूक्त के तहत पंचदेवों में भगवान सूर्य को पूर्णब्रह्म के रूप में उल्लेखित किया गया है। इसमें कहा गया कि क्या ही आश्चर्य है कि स्थावर जंगम, जगत की आत्मा किरणों का पुंज, अग्नि, मित्र और वरुण का यह नेत्र रूप यह सूर्य भूलोक, द्यु लोक तथा अंतरिक्ष को पूर्ण करता हुआ उदित होता है। हे सूर्य आप जहां कहीं भी उदीयमान हैं वे सभी प्रदेश आपके अधीन हैं। सूर्य का देवत्व तो यह है कि ये जगत के मध्य होकर समस्त ग्रहों को धारण करते हैं। सबके प्रेरक सूर्यदेव स्वर्णिम रथ में विराजमान होकर अंधकार पूर्ण अंतरिक्ष पथ में विचरण करते हुए देवों और मानवों को उनके कार्यों में लगाते हुए लोकों को देखते हुए चले आते हैं। सूर्य गुणमयी एवं प्रकाशमान ऊषादेवी के पीछे-पीछे चलते हैं जैसे कोई सर्वांगसुंदरी युवती का अनुगमन करे। सूर्य का रश्मि मंडल अश्व के समान उन्हें सर्वत्र पहुंचाने वाला विचित्र एवं कल्याण रूप है तथा प्रतिदिन अपने पथ पर ही चलता है। सर्वांतरयामी प्रेरक सूर्य का यह ईश्वरत्व और महत्व है कि वे प्रारंभ किए कर्मों को ज्यों का त्यों छोड़ कर अस्ताचल जाते समय इस लोक से अपने आपको समेट लेते हैं और तब यहां रात्रि का साम्राज्य स्थापित हो जाता है। सूर्य की उपासना करने सेज्ञान, सुख, स्वास्थ्य, पद, सफलता, प्रसिद्धि आदि की प्राप्ति होती है।

suryapujan_कैसे करें भगवान सूर्य की पूजा

सूर्य की पहली किरण से दिन की शुरुआत होती है, जो सफलता के लिए प्रेरित करती है। वैसे तो हर दिन सूर्य पूजा करनी चाहिए, परंतु रविवार को सूर्य पूजा करने से बेहतर स्वास्थ्य और धन की प्राप्ति होती है। सुबह स्नान कर सफेद वस्त्र पहनें। तांबे के बर्तन में ताजा पानी भरें तथा नवग्रह मंदिर में जाकर सूर्यदेव को लाल चंदन का लेप कुमकुम, चमेली और कनेर के फूल अर्पित करें। सूर्य मंदिर हो तो प्रतिमा के आगे दीप प्रज्जवलित कर मन में सफलता और यश की कामना करें तथा ऊँ सूर्याय नमः का जप करते हुए जल अर्पित करें।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है