Covid-19 Update

58,460
मामले (हिमाचल)
57,260
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,046,914
मामले (भारत)
113,175,046
मामले (दुनिया)

#Mahapanchayat: महापंचायत का फैसला दिल्ली जाएंगे किसान, जानें और क्या फैसले हुए

किसान नेता राकेश टिकैत ने पीया घर से लाया गया पानी

#Mahapanchayat: महापंचायत का फैसला दिल्ली जाएंगे किसान, जानें और क्या फैसले हुए

- Advertisement -

नई दिल्ली। किसान आंदोलन (Farmers Protest) को लेकर आज मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) में महापंचायत का आयोजन किया गया। गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur Border) में किसानों के प्रदर्शन स्थल में बीते रोज हुए घटनाक्रम के बाद किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने किसानों से महापंचायत (Mahapanchayat) में पहुंचने की अपील की थी। महापंचायत में भारी भीड़ उमड़ी, जिसमें फैसला लिया गया है कि किसानों के आंदोलन को और मजबूत किया जाएगा। साथ ही किसान दिल्ली (Delhi) जाएंगे। आपको बता दें कि यह महापंचायत गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur Border) से करीब 150 किलोमीटर दूर हुई। इस महापंचायत में किसान नेता राकेश टिकैत के भाई नरेश टिकैत (Naresh Tikait) पहुंचे थे।

मुज्जफरनगर में आयोजित हुई महापंचायत में आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह भी पहुंचे। यहां उन्होंने कहा कि मैं दिल्ली से अरविंद केजरीवाल का संदेश लेकर आया हूं। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान काले कानून वापस लिए बगैर नहीं मानने वाला है। राकेश टिकैत के आंसू खून के आंसू हैं। इसके अलावा आज योगेंद्र यादव भी गाजीपुर बॉर्डर में किसानों के आंदोलन में पहुंचे। यहां उन्होंने कहा कि मोदी जी और योगी जी और अन्य सभी ध्यान से सुन लें, किसान इस आंदोलन से पीछे नहीं हटेंगे, चाहे जितना अपमानित और बदनाम कर लें।

यह भी पढ़ें: Singhu Border पर बवाल : किसानों-स्थानीय लोगों के बीच पत्थरबाजी, दो SHO पर तलवार से हमला

बीते रोज गाजीपुर बॉर्डर में हुए बवाल के बाद किसान नेता राकेश टिकैत ने अनशन शुरू कर दिया था। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि जब तक मेरे गांव से पानी नहीं आएगा, मैं पानी नहीं पीऊंगा। आज राकेश टिकैत के गांव से पानी लाया गया। आपको बता दें कि बीते रोज गाजीपुर बॉर्डर प्रदर्शन स्थल पर पानी की सप्लाई बंद कर दी गई थी। इसके अलावा अस्थाई शौचालयों को भी हटा दिया गया है। इसके बाद आम आदमी पार्टी के विधायक पानी के टैंकर लेकर गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे थे, लेकिन उन्हें भी पुलिस ने रोक दिया था। सिंघु बॉर्डर पर भी भारी तनाव की स्थित है।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है