×

Baddi Murder Case: आरोपी बाप-बेटे Arrest, वारदात की वजह बना ज़मीन विवाद

Baddi Murder Case: आरोपी बाप-बेटे Arrest, वारदात की वजह बना ज़मीन विवाद

- Advertisement -

बद्दी। आद्यौगिक क्षेत्र बद्दी में कांग्रेस के पूर्व विधायक के चचेरे भाई हरजिंद्र पाल बिट्टू की हत्या के मुख्य आरोपी रमेश धवन ने सोमवार को पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया, जबकि उसके बेटे विनय धवन को भी पुलिस ने घर से हिरासत में ले लिया। मृतक हरजिंद्र और आरोपी का चक्का रोड बददी पर एक-एक प्लाट है, जिसे लेकर काफी समय से विवाद चल रहा था।
पुलिस ने बाप-बेटे  के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। आरोपियों को रिमांड पर लेने के बाद ही पुलिस बाकी हमलावरों तक पहुंच पाएगी। पुलिस मामले की गहनता से जांच में जुटी है।  पुलिस का कहना है कि रविवार को भी दोनों पक्षों में विवाद को लेकर मामला पुलिस तक पहुंचा था, जिस पर लिखित समझौता हुआ था कि दोनों अब अपने प्लाटों पर किसी भी प्रकार का निर्माण तब तक नहीं करेंगे, जब तक इसकी उचित निशानदेही नहीं हो जाती। आरोपी रमेश धवन का आरोप था कि मृतक हरजिंद्र ने उसके प्लाट के कुछ हिस्से पर जबरन कब्जा कर रखा था, जिसका वह लंबे समय से विरोध करता रहा। 

यूं हुई पूरी वारदात

मामला रविवार रात करीब पौने 9 बजे का है, जब हमलावरों ने चक्का रोड़ पर ओमेक्स अपार्टमेंट के करीब सरेआम हरजिंद्र पाल उर्फ बिट्टू पर तेजधार वाले हथियारों से हमला किया और बाद में उसे गाड़ी से कुचल दिया। बाद में गंभीर हालत में हरजिंद्र को बद्दी अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद पूर्व विधायक राम कुमार चौधरी, नगर पालिका चेयरमैन मदन लाल समेत हरजिंद्र के रिश्तेदारों ने नेशनल हाईवे रैड लाईट चौक को बुरी तरह जाम कर दिया। करीब आधे घंटे तक नेशनल हाईवे जाम रहा और पुलिस गुस्साए लोगों के आगे बेबस नजर आई।

रमेश अकेला था या और भी थे लोग ये रिमांड में पता लगेगा

मृतक के परिजनों का आरोप है कि रमेश धवन अकेला इस कांड में शामिल नहीं है, बल्कि उसके साथ हत्या में साथ देने वाले चार-पांच गुंडे पड़ोसी राज्यों से मंगवाए गए थे। वहीं बद्दी के डीएसपी खजाना राम का कहना है कि रमेश धवन ने अकेले इस वारदात को अंजाम दिया या उसके साथ गैंगवार थे, यह तो पुलिस रिमांड में पूछताछ के दौरान ही पता चलेगा। फिलहाल हमने दोनो मुख्य आरोपियों को गिरफतार कर लिया है और अब मामले कीजांच की जा रही है।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है