Covid-19 Update

3,12, 506
मामले (हिमाचल)
3, 08, 258
मरीज ठीक हुए
4190
मौत
44, 664, 810
मामले (भारत)
639,534,084
मामले (दुनिया)

मेजर दीक्षांत को “मां” ने सेल्‍यूट कर दी विदाई

- Advertisement -


इंदौरा। लेह के कीरू इलाके में इन्फैंट्री के काम्बेट व्हीकल को ट्राले पर लोड करते हुए हादसे में जान गंवाने वाले 27 वर्षीय मेजर दीक्षांत थापा की पार्थिव देह मंगलवार सुबह घर पहुंची। अपने जवान बेटे की पार्थिव देह आंगन में देखकर माता-पिता बेसुध हो गए। दोनों रो-रोकर बेहाल हो गए, परिवार के अन्‍य सदस्‍यों ने उन्‍हें सांत्‍वना दी। जवान का पूरे सैन्‍य सम्‍मान के साथ अंतिम संस्‍कार किया गया। मेजर दीक्षांत थापा की मां ने बहादुर बेटे को सेल्‍यूट कर अंतिम विदाई दी।

बता दें कि मेजर थापा ज़िला कांगड़ा के कंदरोड़ी के रहने वाले थे। उनकी माता गृहिणी है, जबकि पिता सेना के मैकेनाइज़ इनफेंट्री से सेवानिवृत्त होकर अब सेना के ही सुरक्षा सेवा कोर (डीएससी) में सेवारत हैं तथा छोटा भाई अध्ययनरत है। कंदरोड़ी में मकान बनाने से पहले पूरा परिवार धर्मशाला के योल कैंट में रहता था। दीक्षांत थापा सेना के मैकेनिकल विंग 6 मैकेनिकल के 140 रेजिमेड में में तैनात थे और 4 साल पहले ही कमीशन पास कर कैप्टन बने थे। दीक्षांत थापा ने चंडीगढ़ ग्रुप आफ कालेजिस (सीजीसी) से बीटेक की थी और पहली बार में ही एसएसबी क्लीयर किया था। लद्दाख के लेह में सिविल ट्रक ने सेना के वाहन को टक्कर मार दी जिसमें मेजर दीक्षांत थापा की जान चली गई।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED VIDEO

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है