Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

पत्थरबाज को जीप से बांधने वाले Major के मामले में Central and state govt. आमने-सामने

पत्थरबाज को  जीप से बांधने वाले Major के मामले में  Central and state govt. आमने-सामने

- Advertisement -

Major Gogoi: उमर अबदुल्ला ने ट्वीट कर इस मामले की जांच की मांग की

Major Gogoi: श्रीनगर। कश्मीर में सेना पर पत्थरबाजों करने वाले  युवकों के खिलाफ जब मेजर लिपुल गोगोई ने कश्मीरी युवक को जीप पर बांधा तो मेजर की इस पहल के लिए अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आर्इ। कर्इ लोगों ने मेजर की इस पहल का समर्थन किया तो कुछ ने इसका विरोध। इस मामले में अब राज्य सरकार और केंद्र सरकार भी आमने-सामने हैं। जहां सेना ने मेजर लिपुल गोगोई को सम्मानित किया तो वहीं जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने इस मामले की जांच कराने की मांग की है। कश्मीर के आईजी मुनीर खान का कहना है कि मेजर लिपुल के खिलाफ एफआईआर पहले से ही दर्ज है और जांच जारी रहेगी।

प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया मेजर को

आपको बता दें कि मेजर गोगोई के प्रयासों के लिए उन्हें कमेंडेशन कार्ड से सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने सम्मानित किया। उन्हें थलसेना अध्यक्ष की ओर से प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। मेजर गोगोई ने 9 अप्रैल में फ़ारुक़ अहमद नाम के कश्मीरी युवक को जीप पर बांधकर घुमाने के बाद चर्चा में आए थे। इसके बाद उमर अबदुल्ला ने ट्वीट कर इस मामले की जांच की मांग की थी और भारतीय सेना की काफी आलोचना भी हुई थी। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इस मामले में  गोगोई के ख़िलाफ एफआईआर दर्ज़ की थी। फ़ारुक़ अहमद डार ने बातचीत बताया कि बताया कि राष्ट्रीय रायफल्स के जवानों ने उन्हें सुबह पकड़ा और शाम तक जीप में बांधकर घुमाते रहे। फ़ारुक़ ने कहा कि मैं पत्थरबाज़ हूं और मैंने कभी पत्थरबाज़ी नहीं की।


इस मामले में जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा मेजर नितिन गोगोई के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के दो दिन बाद कोर्ट ऑफ इन्क्वॉयरी बैठाई थी, जहां मेजर के खिलाफ किसी तरह की कार्रवाई ना करने की अनुशंसा की गई और वरिष्ठ अधिकारियों ने मेजर की सराहना की थी। क्योंकि इसे पत्थरबाजी से निपटने का बेहतर तरीका माना गया। अभिनेता परेश रावल ने इस मुद्दे पर एक ट्वीट करते हुए कहा कि आर्मी जीप से पत्थरबाज़ों को बांधने की बजाय अरुंधति रॉय को बांधना चाहिए।

यह भी पढ़ें – पत्थरबाज कश्मीरी को Jeep से बांधने वाला Major सम्मानित

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है