Covid-19 Update

1,64,355
मामले (हिमाचल)
1,28,982
मरीज ठीक हुए
2432
मौत
25,227,970
मामले (भारत)
164,275,753
मामले (दुनिया)
×

10 साल बाद हुई परिवार से मुलाकात, जानिए कैसे एक हेयरकट ने बदली इस शख्स की जिंदगी

परिवार की नजरों में एक दशक पहले हो चुकी थी शख्स की मौत

10 साल बाद हुई परिवार से मुलाकात, जानिए कैसे एक हेयरकट ने बदली इस शख्स की जिंदगी

- Advertisement -

45 साल के जोओ कोल्हो गुइमारेस(João Coelho Guimarães) पिछले तीन साल से ब्राजील के गोयानिया शहर में रह रहे हैं और उनके परिवार वालों को लगता था कि उनकी मौत हो चुकी है। फिर एक दिन नाई की दुकान पर हेयरकट(Haircut) लेने पहुंचते हैं और उनकी जिंदगी पूरी तरह से बदल जाती है। ऐसा कैसे हुआ आइए आपको बताते हैं….


यह भी पढ़ें: #YouTube पर साल 2020 में सबसे ज्यादा कमाई करने वाला है ये बच्चा, जानिए कितनी है Income

दरअसल, जब जोओ कोल्हो गुइमारेस ने नाई की दुकान पर जाकर हेयरकट करवाया और दाढ़ी बनवाई तो बार्बर शॉप के लोगों ने उनकी तस्वीरों को इंस्टाग्राम पर पोस्ट कर दिया, इसके बाद व्यक्ति की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने लग गईं। ये तस्वीरें कोल्हो के किसी परिजन ने भी देख ली और कोल्हो के परिवार को इसकी जानकारी दी। इस तरह एक दशक से अपने परिवार से बिछड़ा ये शख्स फिर से अपनी फैमिली से मिल पाया।


बता दें कि जिस दुकान में जोओ कोल्हो गुइमारेस ने हेयरकट लिया, उस दुकान के मालिक ब्राजील के कंट्री सिंगर एलेजांड्रो लोबो हैं। उन्होंने यूओएल के साथ बातचीत में बताया कि ये शख्स अक्सर पुरुषों के क्लोदिंग स्टोर और बार्बरशॉप के आसपास से गुजरता था और कभी-कभी यहां से वो कचरा बीनते हुए भी जाता था। उन्होंने बताया कि एक दिन कोल्हो दुकान के अंदर चला आया और जब दुकान में मौजूद लोगों ने उससे पूछा कि क्या उसे भूख लगी है तो उसने मना कर दिया और पूछा कि क्या आपके पास रेजर है ताकि वो अपनी दाढ़ी(Beard) को ट्रिम कर सके? इसके बाद ही हमें आइडिया आया कि इसका एक खास ट्रांसफॉर्मेशन किया जाना चाहिए। कोल्हो की इस ट्रांसफॉर्मेशन में दो घंटे का समय लग गया।

यह भी पढ़ें: ये कैसा फैशन : #Zara ने डिजाइन किया New Sweater, सोशल मीडिया पर उड़ रहा मजाक

लोबो ने कहा कि क्रिसमस के समय में इस ट्रांसफॉर्मेशन(Transformation) के जरिए हम ये बताना चाहते थे कि थोड़े से बदलाव के साथ चीजें कितनी ज्यादा बदल सकती हैं। सोशल मीडिया पर कोल्हो की तस्वीरें वायरल होने के बाद उनकी मां और बेटी ने उन्हें फोन किया, तो पता चला कि वो पिछले एक दशक से ये मान कर चल रहे थे कि उनकी मौत हो चुकी है। उन्होंने तस्वीरें देखकर ही हमसे संपर्क किया था क्योंकि कोल्हो के पास ना तो फोन नंबर था और न ही कोई स्थायी पता था। इसके बाद इस परिवार का रीयूनियन हुआ। हालांकि कोल्हो अभी भी घर नहीं लौटा है और उसका मानना है कि वो ऐसे ही अपनी जीवन जीना चाहता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है