Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,111,851
मामले (भारत)
114,541,104
मामले (दुनिया)

पधर में रातों रात उखाड़ दिया वर्षों पुराना रास्ता, ग्रामीण भड़के

पधर में रातों रात उखाड़ दिया वर्षों पुराना रास्ता, ग्रामीण भड़के

- Advertisement -

स्कूल प्रबंधन के खिलाफ शिकायत लेकर पहुंचे लोग, कार्रवाई मांगी

वी कुमार/मंडी। पधर उपमंडल के डलाह गांव में रातों-रात जेसीबी लगाकर वर्षों पुराने रास्ते को उखाड़ने का मामला सामने आया है। ग्रामीणों ने यहां स्थित एजुकेशन सोसायटी पधर के प्रबंधन पर रास्ता उखाड़ने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को देकर कार्रवाई की मांग उठाई है। जहां रास्ता उखाड़ा गया उसके साथ लगती जमीन के मालिक शांति लाल, गोपाल दास और पंछी राम ने बताया कि रास्ता पांच गांवों के लिए जाता है और यह रास्ता कई सदियों से ग्रामीणों के आने-जाने का माध्यम है। उन्होंने आरोप लगाया है कि स्कूल प्रबंधन ने रातों रात जेसीबी लगाकर रास्ते को उखाड़ दिया और साथ ही इनकी जमीनों पर जो डंगे लगाए गए थे उन्हें भी तोड़ दिया गया है। उनका यह भी आरोप है कि जिस जमीन पर एजुकेशन सोसायटी अपना स्कूल चला रही है वह कागजों में किसी और के नाम पर है और यहां अवैध कब्जा करके यह स्कूल चलाया जा रहा है।

वहीं जब इस बारे में एजुकेशन सोसायटी पधर के चेयरमैन उत्तम चंद चौहान से बात की गई तो उन्होंने कहा कि जमीन को अवैध बताने का किसी को कोई अधिकार नहीं है। इस बारे में राजस्व विभाग से जानकारी ली जा सकती है। उन्होंने कहा कि यहां कोई रास्ता नहीं है और यह स्कूल की अपनी मिलकीयत  है। निशानदेही के बाद ही चार दीवारी लगाने का काम किया जा रहा है। वहीं, लोगों की शिकायत पर पधर पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। पधर, पुलिस के आईओ हैड कांस्टेबल चमन लाल ने मौके पर आकर सारी स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि रास्ता उखाड़ने के मामले को लेकर राजस्व विभाग की मदद लेकर जांच पड़ताल की जाएगी। वहीं, पुलिस ने शिकायतकर्ता शांति लाल के खिलाफ मारपीट का मामला भी दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार शांति लाल ने यह मारपीट अतुल चौहान के साथ की है और इस संदर्भ में भी कार्रवाई की जा रही है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है