Covid-19 Update

58,777
मामले (हिमाचल)
57,347
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,122,986
मामले (भारत)
114,822,832
मामले (दुनिया)

ITBP के जवान की Post से टूटी प्रशासन की नींद, नशे के कारोबारियों पर कसा शिकंजा

ITBP के जवान की Post से टूटी प्रशासन की नींद, नशे के कारोबारियों पर कसा शिकंजा

- Advertisement -

Police caught Intoxicants: नितेश सैनी/मंडी। बल्ह घाटी में चिट्टा ही चिट्टा बिक रहा है साहब… Social Media  पर डाली गई ITBP के जवान की इस Post ने घाटी में हो रहे नशे के कारोबार का पर्दाफाश कर दिया। Post पर संज्ञान लिया गया तो नशे का जखीरा Police के हत्थे चढ़ा। बल्ह घाटी के युवाओं के नशे के दलदल में देख यहां से संबंध रखने वाले ITBP के जवान ने जागरुकता का परिचय देते हुए नशे के कारोबारियों का पदार्फाश किया है। ITBP का जवान रावत छुट्टी पर घर लौटा था, जब उसने अपने आसपास युवाओं को नशे की लत में पड़े देखा तो इसे Social Media के माध्यम से पुलिस के उच्च अधिकरियों व स्थानीय विधायक से साझा किया। खबर वायरल होते ही Police ने कार्रवाई की और SP Mandi गुरदेव शर्मा के दिशा निर्देश पर कार्यकारी थाना प्रभारी बल्ह की अगुवाई में ग्राम पंचायत कैंहड़ (राजगढ़) में एक दुकान पर छापामारी की। इस दौरान हंस राज उर्फ अब्बू की दुकान में नशीली दवाइयों का जखीरा बरामद किया गया। पुलिस अब अब्बू नामक से पूछताछ की जा रही है।

Police caught Intoxicantsप्रधान बोलीं, शाम होते ही महफिल जम जाती है यहां

इस मामले में कैहड़ ग्राम पंचायत प्रधान अंजना कुमारी के अनुसार पूर्व में भी बल्ह थाना में शिकायत दर्ज करवाई गई थी। कई बार Police को इस बारे में शिकायत की गई कि यहां शाम होते ही लड़कों व लडकियों का जमावड़ा लग जाता है और बड़ी-बड़ी गाड़ियों में लोग आते हैं। यहां नशे के कारोबार को बढ़ावा दिया जा रहा है, किन इस पर भी Police ने कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई। ITBP के जवान रावत ने यह मामला जब Social Media पर उठाया तब प्रशासन नींद से जागा और कार्रवाई की।
SP Mandi गुरदेव शर्मा का कहना है कि Police ने लोगों की शिकायत के आधार पर कार्रवाई को अंजाम दिया है। जिस दुकान से दवाइयां बरामद हुई हैं उस व्यक्ति से पूछताछ की जा रही है। दुकान जो दवाइयां और इंजेक्शन बरामद किए गए उनको जांच के लिए भेजा जाएगा, रिपोर्ट आने पर ही आगामी कार्ऱवाई अमल में लाई जाएगी।

4 माह में 60 से अधिक मामले दर्ज : बड़े घरों के बेटे और बेटियां निशाने पर

Mandi जिला में सिंथेटिक ड्रग्स (स्मैक, ब्राउन शुगर/चिट्टा, सहित प्रतिबंध दवाओं) व अफीम का कारोबार काफी बढ़ रहा है। बड़े-बड़े घरों के चिरागों को ड्र्ग्स माफिया टारगेट कर रहा है। जिसकी वजह से दर्जनों परिवार ड्र्ग्स का दश झेल रहे हैं। वहीं, 2018 में 4 माह के भीतर पुलिस 60 से अधिक मामले दर्ज कर चुका है, जिसमें महंगा नशा की पकड़ा गया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है