Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,437,535
मामले (भारत)
228,638,789
मामले (दुनिया)

कोरोना से जंग के बीच इस प्रदेश में Transgender समुदाय के लिए बनाया अलग क्वारंटाइन सेंटर; जानें

कोरोना से जंग के बीच इस प्रदेश में Transgender समुदाय के लिए बनाया अलग क्वारंटाइन सेंटर; जानें

- Advertisement -

इम्फाल। देश में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच मणिपुर सरकार (Government of Manipur) ने एक सराहनीय पहल की है। सूबे के समाज कल्याण विभाग ने ट्रांसजेंडरों की सुरक्षा का ध्यान रखते हुए एक विशेष तरह के क्वारंटाइन सेंटर की शुरूआत की है। रिपोर्ट्स के अनुसार मणिपुर सरकार ने इम्फाल में ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए अलग क्वारंटाइन सेंटर बनाया है।

दूसरे सम्युदाय के लोगों के साथ रहने में असहज महसूस कर रहे थे ट्रांसजेंडर

ग्रीन और रेड ज़ोन से आने वालों के लिए अलग-अलग सेंटर्स हैं। ट्रांसजेंडर समुदाय के लोगों के लिए यह सेंटर इंफाल वेस्ट में टकियालपाट के गवर्नमेंट ब्लाइंड स्कूल में खोला गया है। वहीं रेड जोन से आने वालों के लिए इंफाल ईस्ट में कोइरेंगी के मारिया मोंटेसरी हायर सेकेंडरी स्कूल में यह सेंटर स्थित है।

यह भी पढ़ें: राहुल ने जारी किया घर लौट रहे मजदूरों से बातचीत का Video; मायावती ने बताया नाटक

मिली जानकारी के अनुसार इंफाल ईस्ट के क्वारंटाइन सेंटर में 25 और इंफाल वेस्ट क्वारंटाइन सेंटर में कुल 20 लोगों के रहने की व्यवस्था है। इस बारे में जानकारी देते हुए सूबे के समाज कल्याण विभाग की तरफ से आगे बताया गया कि हमें कुछ क्षेत्रों और कुछ कार्यकर्ताओं से जानकारी मिली की विभिन्न जिलों और विधानसभा क्षेत्रों में मौजूद क्वारंटाइन सेंटर में ट्रांसजेंडर्स को दूसरे समुदायों के बीच रहने में बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था।

क्वारंटीन सेंटर खोलकर भावनात्मक सुरक्षा का ख्याल रखा गया है

इंफाल वेस्ट के क्वारंटाइन सेंटर में दो ट्रांस-वुमेन को भर्ती कराया गया है। राज्य के सीएम एन बीरेन सिंह ने भी इस संबंध में ट्वीट किया है। एक ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ‘ट्रांसजेंडर क्वारंटाइन सेंटर गवर्नमेंट आइडियल ब्लाइंड स्कूल में खोला गया है और अब यह अन्य राज्यों से आने वाले ट्रांसजेंडरों के लिए तैयार है।’ इस मामले पर सरकार द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि ट्रांसजेंडर के लिए अलग से क्वारंटाइन सेंटर खोलकर इनके भावनात्मक सुरक्षा का ख्याल रखा गया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है