Covid-19 Update

2,00,328
मामले (हिमाचल)
1,94,235
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,881,965
मामले (भारत)
178,960,779
मामले (दुनिया)
×

भारी बारिश से रामपुर में कई संपर्क मार्ग बंद, एचआरटीसी की 13 बसें फंसीं

भारी बारिश से रामपुर में कई संपर्क मार्ग बंद, एचआरटीसी की 13 बसें फंसीं

- Advertisement -

रामपुर बुशहर। बीते दो दिन से हो रही भारी बारिश के कारण जिला शिमला में काफी नुकसान हुआ है वहीं, रामपुर उपमंडल के तहत कई संपर्क मार्ग बंद हो गए हैं। रामपुर (Rampur) के कई ग्रामीण रूटों पर परिवहन निगम की दर्जनों बसें फंसी हुई हैं। क्षेत्रीय प्रबंधक रामपुर डिपो से प्राप्त जानकारी के अनुसार खमाड़ी-रामपुर, रोहड़ू-रामपुर, भगावट-रामपुर, देवरा- प्रेमनगर, मुनिष-रामपुर, बयुन्थल-रामपुर, ठारला-रामपुर, सराहन-रामपुर, खोलीघाट-रामपुर, उरटू-रामपुर, नैहरा-रामपुर संपर्क मागों पर एचआरटीसी की बसें फंसी हुई हैं।

यह भी पढ़ें :- चंडीगढ़-मनाली नेशनल हाईवे 43 घंटों के बाद बहाल, दौड़ी गाड़ियां


परिवहन निगम के रामपुर डिपो ने सड़कों (Roads) की खस्ता हालत को देखते हुए रामपुर से थड़ा, दरकाली और जगोरी के मार्ग बंद होने के कारण बसों को नहीं भेजा है। इसके अलावा रामपुर डिपो के अंतर्गत आने वाले आनी सब डिपो के तहत 13 बसें फंसी हुई हैं। इनमें राणाबाग में 4, गुहाठन में 1, करशाला में 1, रोहाकंडा में 1, दजाश में 3, तिहनी में 1, बडगई में 1 और लडागी में 1 बसें फंसी हुई है। निगम का कहना है कि मौसम और सड़कों की हालत सामान्य होने पर बसों को चलाया जाएगा।
सेब सीजन हुआ प्रभावित :

क्षेत्र में सेब सीजन पर भी मौसम (weather) का असर दिखाई दिया है। बीते दो दिन में रामपुर उपमंडल में हुई भारी बारिश से जगह-जगह भूस्खलन (Landslide) हुआ है। क्षेत्र के ग्रामीण रूट बंद होने से बागवानों की चिंता बढ़ गई है। सेब बाहुल इलाकों में यातायात सुविधा न होने से बागवानों को अपनी फसल को मंडियों तक पहुंचाने का डर सताने लगा है। अगर जल्द क्षेत्र की सड़कों को बहाल न किया गया तो मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों सेब बागवानों को आर्थिकी संकट उठाना पड़ सकता है। मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सेब बिल्कुल तैयार हो चुका है। अगर समय रहते इसे मंडियों तक नहीं पहुंचाया गया तो बागवानों का सेब बगीचों में ही सड़ जाएगा। उल्लेखनीय है कि इन दिनों मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में भी सेब तुड़ान का काम जारी है। सेब को मंडी तक पहुंचाने के लिए सड़कों का बहाल होना जरूरी है।


इस बारे में लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता संजीव सोबती ने बताया कि भारी बारिश के कारण सड़कों को नुकसान पहुंचा है। विभिन्न स्थानों से मिली जानकारी के अनुसार रामपुर डिवीजन में 13 सड़कें क्षतिग्रस्त हुई हैं। विभाग का प्रयास है कि जेसीबी और अन्य मशीनों की मदद से अगले 24 घंटों में सभी मार्गों को बहाल कर दिया जाएगा।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है