Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

ससुरालियों से तंग आकर विवाहिता ने लगाया फंदा, मां ने बताया बेटी के साथ क्या-क्या हुआ

ससुरालियों से तंग आकर विवाहिता ने लगाया फंदा, मां ने बताया बेटी के साथ क्या-क्या हुआ

- Advertisement -

शिमला। ससुरालियों से तंग आकर एक विवाहिता ने फंदा लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली है। विवाहिता की मां की शिकायत पर बालूगंज थाने में मामला दर्ज कर पुलिस (Police) जांच में जुट गई है। शिकायत में विवाहिता की मां जयदेई निवासी गांव चनावग शिमला ने बताया कि उनकी दो लड़कियां व एक लड़का है। बड़ी बेटी खिम्मी देवी उर्फ मीरा की शादी उन्होंने वर्ष 2017 में घनश्याम पुत्र लेख राम निवासी गांव बंगेरा डाकघर औखरू जिला शिमला (Shimla) के साथ की थी। शादी के उपरांत तीन माह तक इसकी बेटी को ससुराल वालों ने ठीक ठाक रखा। इसके बाद जब इसकी बेटी मायके से ससुराल (Laws House) गई तो उसके साथ उसकी सास प्रेमा देवी ने बातचीत करनी बंद कर दी। उनका जमाई (बेटी का पति) बेटी को इनके घर छोड़ गया। उन्होंने अपनी लड़की का इलाज करवाया। उसके बाद बेटी गर्भवती हो गई, जब इसकी बेटी के पेट में आठ महीने का बच्चा था तो इसका जमाई घर आया। बेटी को वापस घर ले जाने के लिए कहने लगा तो इसकी बेटी ने उसे कहा कि आप की मम्मी मेरे से बात नहीं करती है तथा आप भी हफ्ते के उपरांत घऱ पर आते हो, इसलिए में डिलीवरी यही पर करवाऊंगी। बेटी करीब 4 महीने तक इनके पास रही तथा इसकी बेटी के एक लड़की को जन्म दिया। लड़की के जन्म के बाद जमाई इनके घर आया और अपनी जिम्मेदारी पर बेटी (खिम्मी देवी उर्फ मीरा) को साथ ले गया। उसके कुछ दिन बाद तक यह ठीक रहे। एक दिन जब इसकी बेटी ससुराल में कपड़े धोने लगी तो इसकी सास ने इसे पानी नहीं दिया तथा उसकी बेटी को बावड़ी में कपड़े धोने जाना पड़ा, जिस कारण उस दिन इसकी बेटी खाना नहीं बना सकी।

यह भी पढ़ें: Breaking: हिमाचल में Cabinet की बैठकें हो जाएंगी Paperless, हींग-केसर की खेती के फिरेंगे दिन

ससुर ने कहा कि घर में काम करना है तो यहां रहे नहीं तो उनके घर से निकल जाए। उसके बाद तीन दिन तक इसकी बेटी भूखी रही। तीन दिन के बाद इसका जमाई इसकी बेटी को लेकर उनके (मायके) घर आया तथा उस समय 8 महीनों तक इसकी बेटी इनके घर पर ही रही। उसके बाद जमाई ने धामी में क्वार्टर लिया। क्वार्टर में इसकी बेटी के एक लड़का पैदा हुआ। लड़का पैदा होने के 4 या 5 दिन बाद इसकी बेटी के ससुराल वालों ने पंचायत की तथा इसकी बेटी के साथ ससुर व जमाई ने कहा कि यह इसकी बेटी को घर ले जाना चाहते हैं, जिस पर ग्राम पंचायत औखरू के कहने पर उन्होंने बेटी को ससुराल भेज दिया। ससुराल जाने के बाद 6 महीने तक सभी ठीक रहे। 20 जून को इसकी बेटी ने फोन पर बतलाया कि इसकी सास-ससुर व देवरानी इससे बात नहीं करते हैं। 21 जून को इसकी बेटी ने फोन पर इसके साथ रोते-रोते बात की तथा यही बात बताई। उनकी बेटी खीमी देवी @ मीरा को इसकी सास प्रेमा देवी, ससुर लेख राम, देवरानी ज्योति व उनके जमाई घनश्याम ने ही तंग करके आत्महत्या करने के लिए उकसाया है। बेटी ने 21 जून को फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली है। मामले की जांच पुलिस चौकी धामी प्रभारी एएसआई (ASI) रोशन लाल कर रहे हैं।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है