Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,726,507
मामले (भारत)
199,611,794
मामले (दुनिया)
×

मैक्लोडगंज: क्रिसमस-न्यू ईयर पर लगा पर्यटकों का तांता, घंटों जाम में रहे परेशान

मैक्लोडगंज: क्रिसमस-न्यू ईयर पर लगा पर्यटकों का तांता, घंटों जाम में रहे परेशान

- Advertisement -

मैक्लोडगंज। अंतरराष्ट्रीय पर्यटक स्थल मैक्लोडगंज (McLeod Ganj) में शीतकालीन पर्यटन सीजन के दौरान क्रिसमस (Christmas) और न्यू ईयर (New year) पर पर्यटकों की बढ़ती संख्या से ट्रैफिक जाम (Traffic jam) की समस्या से घंटों जूझना पड़ रहा है। प्रशासन द्वार की गई वन-वे व्यवस्था भी ट्रैफिक जाम की समस्या निजात नहीं दिलवा पा रही है। इससे पर्यटन व्यवसाय पर विपरीत असर पड़ रहा है। बुधवार को क्रिसमस मनाने पहुंचे पर्यटकों को इसी समस्या से दो-चार होना पड़ा। बता दें कि मैक्लोडगंज में पार्किंग की सबसे बड़ी समस्या है और वैकल्पिक मार्ग की सुविधा भी नहीं है। इसका कारण सड़कों के किनारे पार्क किए गए वाहन व सड़कों दोनों ओर रेहड़ी-फड़ी लगने व अतिक्रमण से यह समस्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है।

यह भी पढ़ें: क्रिसमस पर कालका-शिमला RailwayTrackपर शुरु हुआ Vistadome का सफर

मैक्लोडगंज से दलाई लामा बौद्ध मठ की ओर जाने वाले सड़क मार्ग पर वन भूमि पर अतिक्रमण कर निर्मित किए गए खोखे इसका कारण हैं। इन अतिक्रमणों को लिए न तो वन विभाग ने कभी प्रयास किए ही स्थानीय प्रशासन ने इसके लिए उचित कार्यवाही की। नगर निगम इन खोखाधरकों से प्रतिदिन शुल्क वसूलता है। गौरतलब है कि एक बार यदि मैक्लोडगंज में जाम लग गया तो पर्यटकों समेत स्थानीय लोगों को घंटों परेशानियों का सामना करना पड़ता है। तिब्बतियों के आध्यात्मिक धर्मगुरु दलाईलामा का निवास स्थान एवं तिब्बत निर्वासित सरकार मुख्यालय होने के कारण देश-विदेश से भी पर्यटक यहां पहुंचते हैं, लेकिन उन्हें अभी तक मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध नहीं हो पाती हैं। हालांकि धर्मशाला को नगर निगम बने तीन साल से ज्यादा का समय हो चुका है पर उस लिहाज से सुविधाओं की दरकार है।


 


यह है ट्रैफिक जाम की वजह

मैक्लोडगंज चौक में मैक्लोडगंज-धर्मशाला मुख्य मार्ग के अलावा खड़ा डंडा रोड, भागसूनाग रोड, धर्मकोट रोड व नड्डी रोड मिलते हैं। चौक पर गाड़ियों के फंसने के साथ ही जाम लगना भी शुरू हो जाता है। भागसूनाग में वीकेंड पर पैदल चलना भी पर्यटकों व आम लोगों के लिए दूभर हो जाता है। हीरू इंद्रुनाग सड़क का निर्माण कई सालों से पड़ा है। यह सड़क सीधे कर्मू मोड़ जोड़ने से जाम की समस्या काफी हद तक दूर की जा सकती है। इसके अलावा मैक्लोडगंज व भागसूनाग में पार्किंग की बेहतर व्यवस्था की करने की जरूरत है।

इस मसले पर बात करते हुए होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन धर्मशाला के मुख्य सलहाकार रामस्वरूप शर्मा ने कहा कि कांगड़ा घाटी में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार व प्रशासन को तीन बिंदुओं पर कार्य करने की आवश्यकता है। पार्किंग निर्माण, शौचालयों की व्यवस्था और वैकल्पिक मार्गों का निर्माण किया जाना चाहिए। मैक्लोडगंज में नई ईयर पर सैंकड़ों पर्यटक पहुंचते हैं लेकिन सुविधाएं न होने से उन्हें दिक्कतें होती हैं। वहीं नगर निगम धर्मशाला के महापौर देवेंद्र जग्गी ने कहा कि मैक्लोडगंज व भागसूनाग में नगर निगम का मल्टी स्टोरी पार्किंग का निर्माण प्रस्तावित है। नगर निगम औपचारिकताएं पूरी करने में जुट गया है। दलाई लामा बौद्ध मठ नजदीक 5.7 करोड़ की लागत से स्मार्ट सिटी योजना के तहत स्वीकृत की गई है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है