Covid-19 Update

2,00,832
मामले (हिमाचल)
1,95,254
मरीज ठीक हुए
3,440
मौत
30,028,709
मामले (भारत)
179,981,557
मामले (दुनिया)
×

पुरानी पेंशन बहाली के लिए लड़ाई लड़ने को बनाई रणनीति, बनेगी कमेटी

पुरानी पेंशन बहाली के लिए लड़ाई लड़ने को बनाई रणनीति, बनेगी कमेटी

- Advertisement -

लेखराज धरटा/शिमला। पुरानी पेंशन (Old Pension) बहाली को लेकर कर्मचारी संगठन एकजुट होते दिख रहे हैं। प्रदेश सचिवालय में आज एनपीएस (NPS) कर्मचारी संगठन और सचिवालय सेवाएं कर्मचारी संगठन की एक अहम बैठक हुई। इस बैठक में पुरानी पेंशन (Old Pension) नीति की बहाली के लिए एकजुट होकर लड़ाई लड़ने की रणनीति बनाई गई। बैठक की अध्यक्षता सचिवालय सेवाएं कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष संजीव शर्मा ने की। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों के हक की लड़ाई के लिए सबको साथ लेकर चलेंगे। सचिवालय (Secretariat) के ही नहीं, बल्कि प्रदेश के सभी कर्मचारियों से जुड़े मुद्दों को जल्द ही प्रदेश सरकार के समक्ष रखा जाएगा। उन्होंने सभी कर्मचारियों से आग्रह किया कि 15 अगस्त तक सभी कर्मचारी अपनी समस्याओं का ब्यौरा कार्यकारिणी के समक्ष पेश करें। इसके बाद मुद्दों को सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) के समक्ष उठाया जाएगा।

यह भी पढ़ें :- बड़ी कार्रवाईः बिना दस्तावेज चल रही थीं स्कूल बसें, एआरटीओ ने कीं जब्त

 



एनपीएस (NPS) कर्मचारियों सहित अन्य कर्मचारियों की एक कमेटी बनाई जाएगी। कमेटी बनाने के बाद आगामी आंदोलन का रास्ता तय किया जाएगा। संजीव शर्मा ने कहा कि कर्मचारियों के 4-9-14, पुरानी पेंशन (Old Pension) बहाली और वरिष्ठ सहायकों के आरएंडपी रूल में संशोधन कर 10 साल से घटा कर सात साल करवाना भी एक अहम मुद्दा है। ऐसी कई मांगे हैं, जो कर्मचारियों के हितों के लिए संगठन प्रदेश सरकार के समक्ष रख कर उसे मनवाने के लिए हर संभव प्रयास करेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सचिवालय (Secretariat) में खाली चल रहे पदों को भरने सहित कई अन्य मसलों पर जल्द ही प्रदेश सरकार से चर्चा होगी।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है