Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,111,851
मामले (भारत)
114,541,104
मामले (दुनिया)

मेघालय: खदान में फंसे मजदूरों को निकालने के लिए बड़े रेस्क्यू ऑपरेशन की तैयारी

मेघालय: खदान में फंसे मजदूरों को निकालने के लिए बड़े रेस्क्यू ऑपरेशन की तैयारी

- Advertisement -

नई दिल्ली। मेघालय खदान में फंसे मजदूरों को निकालने के लिए बड़े रेस्क्यू ऑपरेशन की तैयारी हो चुकी है। स्थिति की संवेदनशीलता को देखते हुए केंद्र सरकार ने खनिकों को बचाने के लिए अतिरिक्त एनडीआरएफ की टीम को हाई पावर पंप समेत अन्य आधुनिक उपकरणों के साथ भेजने का फैसला लिया है। भारतीय वायुसेना ने भुवनेश्वर से गुवाहाटी के लिए एक विशेष एयरक्राफ्ट तैनात किया है। जो कि, एनडीआरएफ के जवानों और हाई पावर पंप समेत अन्य जरूरी उपकरणों के साथ भुवनेश्वर के लिए उड़ान भर चुका है।

गुवाहाटी हवाई अड्डे से 213 किलोमीटर दूर है खदान

मेघालय में कोयले की खदान में फंसे 15 लोगों को बचाने के लिए भारतीय वायुसेना ने शुक्रवार को भुवनेश्वर से गुवाहाटी के लिए एक विशेष एयरक्राफ्ट तैनात किया है। वायुसेना का विशेष एयरक्राफ्ट जयंतिया हिल्स जिले में स्थित खदान में दोपहर तक पहुंचेगा। यह एयरक्राफ्ट एनडीआरएफ की टीम और हाई पावर पंपों सहित अन्य उपकरणों को लेकर गुवाहाटी हवाई अड्डे पर उतरेगा। यहां से खदान के लिए 213 किलोमीटर की यात्रा करनी होगी।

नदी से खदान में लगातार आ रहा है पानी

वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि पास की एक नदी से खदान में लगातार पानी आ रहा है, जिससे वहां गोताखोरों का काम करना भी असुरक्षित हो गया है। हाई पावर पंप आने में बहुत देर हो चुकी है। लगभग आठ दिन पहले बचाव दल ने कम से कम 10 हाई पावर पंप देने की मांग की थी। इससे पहले एक निजी पंप निर्माता कंपनी की दो टीमें स्वेच्छा से गुरुवार को पानी निकासी के लिए साइट पर पहुंची थी। यहां पर श्रमिक 370 फुट अवैध खदान में फंसे हुए हैं।

खदान से आ रही है दुर्गंध

एनडीआरएफ ने गुरुवार को मीडिया में आ रही उन खबरों का खंडन किया। जिसमें कहा जा रहा था कि खदान में फंसे मजदूरों की मौत होने का संदेह है। क्योंकि खदान में उतरे गोताखोरों ने दुर्गंध महसूस की थी। बता दें कि मेघालय की कोयला खदान में 13 दिसंबर से 15 मजदूर फंसे हुए हैं।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है