×

Kaul Singh न रुके तो गुस्साए लोग बोल उठे, मुर्दाबाद-मुर्दाबाद

Kaul Singh न रुके तो गुस्साए लोग बोल उठे, मुर्दाबाद-मुर्दाबाद

- Advertisement -

ललित/पधर। क्षेत्र की समस्याओं को लेकर आमरण अनशन पर बैठे लोगों की अनदेखी करना व उनकी बात न सुनना स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर को महंगा पड़ा। बात न सुनने से गुस्साए युवा शक्ति के संगठन व महिला मंडल के सदस्यों ने पधर बाजार में कौल सिंह के खिलाफ नारे लगाए। जाहिर है कि क्षेत्र की समस्याओं को लेकर युवा शक्ति संगठन के अध्यक्ष गिरधारी लाल पिछले तीन दिन से आमरण अनशन पर बैठे हैं।


  • आमरण अनशन पर बैठे लोग करना चाहते थे बात
  • पधर में कौल सिंह ने बात करना न समझा गंवारा  

संगठन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं भड़वाहन पंचायत के प्रधान कमांडो जितेंद्र कुमार व मुख्य सलाहकर रविकांत की अगुवाई में मंगलवार को लोगों ने स्वास्थ्य मंत्री ठाकुर कौल सिंह को पधर बाजार में रोक कर उनसे बात करने का प्रयास किया। लोगों के प्रयास करने के बावजूद न तो मंत्री ने उन लोगों से बात सुनी और न ही उनसे मुलाकात करना जरूरी समझा वे सीधे आगे निकल गए। इससे गुस्साए युवा शक्ति संगठन के कार्यकर्ताओं व उनके समर्थन में उतरे महिला मंडल की सदस्यों ने पधर बाजार कौल सिंह मुर्दाबाद, कौल सिंह होश में आओ और प्रदेश सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाए। संगठन के उपाध्यक्ष  ने कहा कि युवा शक्ति संगठन ने वर्ष 2015 में भी लोक निर्माण विभाग के डिविजन कार्यालय को पधर में स्थापित करने के लिए आंदोलन किया था, जिसको स्थानीय विधायक एवं मंत्री ने पहले पधर से द्रंग और बाद में मंडी शिफ्ट कर दिया। इस दौरान संगठन ने 18 दिन की भूख हड़ताल और 6 दिन का आमरण अनशन किया था।

युवा शक्ति सगठन ने स्थानीय विधायक से सवाल किया है कि लोक निर्माण विभाग के कार्यालय को पधर से मंडी क्यों शिफ्ट किया गया और पधर अस्पताल में अल्ट्रासाउंड की मशीन क्यों नहीं चलती है। इसके अलावा उनके सवाल है कि पिछले चार वर्षों से मिनी सचिवालय व थाना पधर के भवनों का निर्माण क्यों नहीं हो रहा है। आईआईटी  कमांद में उन्होंने द्रंग के कितने लोगो को रोजगार दिया है और प्रदेश में दरंग विधानसभा क्षेत्र में सब से ज्यादा बेरोजगार क्यों है। युवा शक्ति संगठन का कहना है कि उनका यह आंदोलन राजनीति से प्रेरित नहीं है, बल्कि दरंग विधानसभा क्षेत्र की मुलभूत समस्याओं को लेकर है।

Watch Video

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है