Covid-19 Update

2,62,087
मामले (हिमाचल)
2, 42, 589
मरीज ठीक हुए
3927*
मौत
39,543,328
मामले (भारत)
352,920,702
मामले (दुनिया)

सनकी डॉक्टर ने की पत्नी सहित दो बच्चों की हत्या: नोट में लिखा- ओमिक्रॉन सबको मार डालेगा, इसलिए मैंने उन्हें मुक्ति दे दी

कानपुर में मानसिक रूप से अस्वस्थ एक डॉक्टर ने पत्नी सहित दो बच्चों की हत्या कर दी

सनकी डॉक्टर ने की पत्नी सहित दो बच्चों की हत्या: नोट में लिखा- ओमिक्रॉन सबको मार डालेगा, इसलिए मैंने उन्हें मुक्ति दे दी

- Advertisement -

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के कानपुर से हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक डॉक्टर ने अपनी पत्नी सहित दो मासूम बच्चों को मौत के घाट उतार दिया। हत्या की जानकारी मिलते ही पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। अजीब बात यह है कि हत्या करने बाद खुद आरोपी डॉक्टर ने अपने भाई को मैसेज कर पुलिस बुलाने को कहा और खुद मौका ए वारदात से फरार हो गया। उसने हत्या का जो कारण बताया, उसे पढ़ने के बाद आपका भी दिमाग सन्न रह जाएगा।

यह भी पढ़ें: राजधानी दिल्ली में एक घर से मिली चार लाशें, हत्या या आत्महत्या की गुत्थी में उलझी पुलिस

मौका ए वारदात से मिले एक नोट के मुताबिक, डॉक्टर इस घटना का कारण ओमिक्रॉन को बताया। नोट में आरोपी ने लिखा, ‘अब लाशें नहीं गिननी है।’ मौके पर पहुंचकर पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बताया जा रहा है कि डॉक्टर पिछले काफी समय से डिप्रेशन में था।

परिजनों के मुताबिक, इंदिरा नगर में डिविनिटी अपार्टमेंट में डॉक्टर सुशील कुमार अपने परिवार के साथ रहते थे। उन्होंने अपने भाई को मैसेज भेजा कि मैंने डिप्रेशन में आकर पत्नी और दोनों बच्चों की हत्या कर दी है। यह पढ़कर उसका भाई भी सन्न रह गया, इसके साथ ही उसने पुलिस को सूचना दी। आरोपी के भाई ने बताया कि घर में भाभी चंद्र प्रभा के साथ दोनों बच्चों की हत्या हो चुकी थी। पास में खून से सना हुआ हथौड़ा भी पड़ा हुआ था। चंद्रप्रभा (48), बेटा शिखर (18) और डॉक्टर की नाबालिग बेटी 10वीं की छात्रा थी।

आरोपी ने नोट में लिखा कि वह एक लाइलाज बीमारी से ग्रस्त हो गया है। ऐसे में वो अपने परिवार को कष्ट में नहीं छोड़ सकता है। सभी को मुक्ति के मार्ग पर छोड़कर जा रहा हूं। सारे कष्ट एक ही पल में दूर कर रहा हूं। अपने पीछे किसी को कष्ट में नहीं देख सकता था। मेरी आत्मा कभी मुझे माफ नहीं करती। सुशील अपने नोट में कोरोना और ओमिक्रॉन वैरिएंट का जिक्र किया है। ‘अब लाशें नहीं गिननी हैं, ओमिक्रॉन सबको मार डालेगा। अपनी लापरवाही के चलते उस मुकाम पर फंस गया हूं, जहां से निकलना मुश्किल है।’

मिली जानकारी के अनुसार, आरोपी सुशील कानपुर के रामा मेडिकल कॉलेज के फॉरेंसिक विभाग में एचओडी पद पर कार्यरत है। उन्होंने कानपुर मेडिकल कॉलेज से पढ़ाई की है। हत्याकांड सामने आने के बाद कानपुर पुलिस सुशील को ढूंढने में जुट गई है। वहीं, पुलिस फरार डॉक्टर को ढूंढने का प्रयास कर रही है। मौके से पुलिस को एक डायरी भी मिली है, जिसमें डॉक्टर ने हत्या की वजह कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोम को बताया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है