Covid-19 Update

2,05,017
मामले (हिमाचल)
2,00,571
मरीज ठीक हुए
3,497
मौत
31,341,507
मामले (भारत)
194,260,305
मामले (दुनिया)
×

घर में ही घिरे आईपीएच मंत्री महेंद्र ठाकुर, मनरेगा मजदूरों ने बोला हल्ला

घर में ही घिरे आईपीएच मंत्री महेंद्र ठाकुर, मनरेगा मजदूरों ने बोला हल्ला

- Advertisement -

धर्मपुर। मनरेगा मजदूरों को दिए जाने वाले सोलर लैंप (Solar Lamp), साइकिल, इंडक्शन हीटर (Induction Heater) और वाशिंग मशीन मामले में आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर अपने ही घर में घिरते दिखाई दे रहे हैं। मनरेगा मजदूरों ने सीटू के बैनर तले प्रदर्शन कर मंत्री के खिलाफ मोर्चा खोला। जमकर नारेबाजी की और बीडीओ कार्यालय (BDO Office) का घेराव किया। साथ ही आईपीएच मंत्री के घेराव की चेतावनी दी। इस मौके पर मनरेगा मजदूरों ने एसडीएम के माध्यम से सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) को एक मांगपत्र भी भेजा। प्रदर्शन सीटू के जिला प्रधान भूपेंद्र सिंह, यूनियन के ब्लॉक अध्यक्ष कश्मीर सिंह ठाकुर व महासचिव मोहन लाल के नेतृत्व में किया। सीटू के जिला प्रधान भूपेंद्र सिंह ने कहा कि मंडी जिला के धर्मपुर में मनरेगा मजदूरों के सामान को बांटने में हो रही देरी का मुख्य कारण यहां के विधायक व वर्तमान सरकार में मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर हैं, जो राज्य श्रमिक बोर्ड से मजदूरों को स्वीकृत सोलर लैंपों, साइकिलों और इंडक्शन हीटरों को बंटने नहीं दे रहे हैं। जानबूझ कर उसमें अड़ंगा अड़ा रहे हैं।


उन्होंने मंत्री पर आरोप लगाया है कि उनके कहने पर हिमाचल प्रदेश सरकार ने महिलाओं को मिलने वाली वाशिंग मशीन (Washing Machine) बंद कर दी हैं। जो तीन आइटम एक हज़ार से ज्यादा मजदूरों को मार्च महीने में स्वीकृत हुई हैं, उन्हें बीडीओ ऑफिस (BDO Office) के हाल में कई महीनों से डंप किया हुआ है और उन्हें बांटा नहीँ जा रहा है। मजदूर यूनियन ने इस बारे अगस्त माह में भी ज्ञापन सौंपा था और बोर्ड ने 15 नवंबर से पहले इसे बांटने का लिखित में लेबर ऑफिसर (Labor officer) मंडी को निर्देश दिए थे, लेकिन एक माह और गुजर जाने के बाद भी यह वितरण नहीं हो पाया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

यूनियन के प्रधान कश्मीर सिंह ठाकुर ने बताया कि मंडी जिला में सबसे अधिक मजदूरों का पंजीकरण धर्मपुर में हुआ है, जो कुल पांच हजार से ज्यादा है। उन्हें अभी तक दस करोड़ रुपए से ज़्यादा की सहायता बोर्ड ने प्रदान की है, लेकिन मज़दूरों के सामान वितरण के लिए मंत्री और उनका परिवार अनावश्यक हस्तक्षेप कर रहे हैं। यूनियन ने मंडी लेबर ऑफिस में पंजीकरण करने में तथा छात्रवृत्ति लाभ को स्वीकृत करने में हो रही देरी की भी शिकायत दर्ज की है और उसमें सुधार करने की भी मांग की है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है