Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,111,851
मामले (भारत)
114,541,104
मामले (दुनिया)

Nadda के बोल, विकास को धन की कमी नहीं पर प्रदेश सरकार भी बढ़ाए कदम

Nadda के बोल, विकास को धन की कमी नहीं पर प्रदेश सरकार भी बढ़ाए कदम

- Advertisement -

Jai Prakash Nadda : सोलन। केंद्रीय स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्री Jai Prakash Nadda ने कहा कि केंद्र सरकार विकास कार्यों के लिए धन देने में कोई कसर नहीं रख रही है। उन्होंने प्रदेश सरकार से भी आग्रह किया कि सरकार प्रदेश में विकास के लिए कदम बढ़ाए। यह शब्द केंद्रीय स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्री जय प्रकाश नड्डा ने सोलन में एक निजी संस्था द्वारा आयोजित देर शाम एक कार्यक्रम के दौरान छात्रों को संबोधित करते हुए कहे।  उन्होंने कहा कि अपनी भाषा, वेषभूषा एवं संस्कृति को बचाए रखने के लिए हर व्यक्ति को आगे आना चाहिए। युवा छात्र इसमें सर्वाधिक सहयोग कर सकते हैं।

बोले, हर हिमाचली को अपनी पहचान बनाए रखनी चाहिए

केंद्रीय स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्री जय प्रकाश नड्डा दिल्ली जाते हुए कुछ देर के लिए कार्यक्रम में शिरकत करने रुके व कार्यक्रम के बाद दिल्ली के लिए रवाना हो गए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हर हिमाचली को अपनी पहचान बनाए रखनी चाहिए व अपनी पहचान नहीं छुपानी चाहिए । उन्होंने  कहा कि हम सभी को हिमाचली होने पर गर्व करना चाहिए। संघ द्वारा चौपाल के लिए अस्पताल की मांग रखी जाने पर उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने जब जो मांगा केंद्र सरकार ने दिल खोलकर सब दिया है। सरकार यदि मांग रखेगी तो पूरा सहयोग दिया जाएगा।

डिजीटलीकरण से नकली नोटों के चलन पर लगेगी लगामः नड्डा
शिमला। राष्ट्र में 80 प्रतिशत से अधिक अनौपचारिक आर्थिक कार्यकलापों को औपचारिक अर्थव्यवस्था से जोड़कर आर्थिक विकास को नई दिशा प्रदान की जाएगी, जिससे टैक्स देने वालों की संख्या बढ़ेगी और विकास के लिए प्रचुर धन उपलब्ध होगा। यह बात केंद्रीयस्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा ने आज यहां, पीटरहॉफ में आयोजित ‘डिजिधन मेले के आयोजन के अवसर पर कही। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में बैंकिंग व्यवस्था पूरी तरह से पेपर विहीन हो जाएगी तथा सभी लेन-देन बिना नगद संभव हो सकेंगे। उन्होंने बताया कि बैंकों में जहां पहले सवा तीन करोड़ खाते थे, वहीं जन-धन योजना के तहत अब तक 27 करोड़ खाते खोले गए, जिनसे बैंकों में 63,800 करोड़ जमा हुए। यह राशि बैंकों के माध्यम से देश के आर्थिक विकास के लिए इस्तेमाल हो सकेगी।

सूचना प्रौद्योगिकी, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री श्रीमती विद्या स्टोक्स ने कहा कि प्रदेश सरकार विभागों में कम्प्यूटीकरण तथा लेन-देन में कैशलेश व्यवस्था को बढ़ावा दे रही है। उन्होंने बताया कि आबकारी एवं कराधान चिभाग द्वारा व्यापारियों के लिए आवश्यक सभी फार्म ऑनलाइन कर दिए गए हैं, जिससे सुविधा के साथ-साथ पारदर्शित भी बढ़ी है। उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश जीएसटी अपनाने के लिए पूरी तरह तैयार है। प्रदेश में शत-प्रतिशत आधार कार्ड बन चुके हैं, जिससे डिजीटल लेन-देन को बढ़ावा मिलेगा।  उन्होंने बताया कि प्रत्येक विभाग में कम्प्यूट्रीकरण को बढ़ावा दिया जा रहा है। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री से आग्रह किया कि डिजिटलीकरण के प्रसार के लिए प्रदेश के सभी विभागों के लिए केन्द्र से आवश्यक धन उपलब्ध करवाएं तथा कम्प्यूट्रीकरण से डिजिटलीकरण को बढ़ावा मिल सकें।

इस अवसर पर प्रधान सचिव सूचना प्रौद्योगिकी  जगदीश शर्मा ने बताया कि प्रदेश में सभी विभागों के कर्मचारियों को आवश्यक प्रशिक्षण भी प्रदान किया जा रहा है। इस अवसर पर सांसद वीरन्द्र कश्यप, विधायक महेन्द्र सिंह, सुरेश भारद्वाज तथा गोविन्द राम भी उपस्थित थे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है