Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,563,421
मामले (भारत)
230,985,679
मामले (दुनिया)

हिमाचल: तलाई सहकारी समिति में करोड़ों रूपए के घपले की आंच केसीसी बैंक तक पहुंची

विधानसभा में गूंजा तलाई सहकारी समिति घोटाला मामला

हिमाचल: तलाई सहकारी समिति में करोड़ों रूपए के घपले की आंच केसीसी बैंक तक पहुंची

- Advertisement -

शिमला। तलाई सहकारी समिति में करोड़ों के घपले की आंच कांगड़ा कोऑपरेटिव बैंक (केसीसी) तक पहुंच चुकी है। इस मामले में अब केसीसी बैंक (KCC Bank) के मिलीभगत होने के आरोपों की जांच होगी। विधानसभा में शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज (Urban Development Minister Suresh Bhardwaj) ने मामले पर कहा कि तलाई ग्राम सेवा सहकारी समिति (Talai Village Service Cooperative Society) में 2017-18 में सहकारी विभाग ने जो ऑडिट किया था, जिसमें 25 करोड़ 73 लाख रूपए की अनियमितता पाई गई थी। उसे 31 मार्च 2019 तक की बैलेंस शीट में जमा किया गया। साथ ही 17 करोड़ 70 लाख रुपये जमाकर्ताओं को वापस किया गया। इसमें एफआईआर (FIR) भी दर्ज की गई। मंत्री सुरेश भारद्वाज ने विधानसभा (Himachal vidhansabha) में कहा कि सोसायटी सचिव व सहकारी सभा एक्ट में सरचार्ज की प्रक्रिया भी शुरू की गई है। प्रबंधन कमेटी के सदस्यों सभी संपत्तियों को सोसाइटी के नाम कर रहे हैं। मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बताया कि विभाग आरोपियों के खिलाफ अदालत में सिविल सूट (Civil suit) फाइल करेगी।

यह भी पढ़ें: मानसून सत्रः सदन में बोले सीएम जयराम- एफआरए के पेंच ने रोके कई प्रोजेक्ट व विकास कार्य

जयराम सरकार में हुए कई सुधार

वहीं, उन्होंने कहा कि सहकारी सभाओं में ऐसे घपले होते हैं। पकड़े जाते हैं। ऑडिट में भी बातें सामने आती हैं। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) के कार्यकाल में सहकारी विभाग में कई सुधार हुए हैं। मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बताया कि नॉन मेंबर डिपॉजिट पर पहले सचिव भी सदस्यों के साथ रुपए जमा करवाते थे, लेकिन अब इस प्रावधान में संशोधन किया गया है। वहीं, सोसाइटी के ऑडिट के लिए एक्ट में संशोधन किया गया है। मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बताया कि एमकॉम, बीकॉम, सीए आदि का ऑडिटर्स का पैनल बना लिया है। जिसके बाद अब सभी सोसाइटी को ऑडिट करवाना अनिवार्य किया गया है। इसके साथ ही उन्होंने इस घोटाले का ठीकरा कांग्रेस (Congress) के सिर फोड़ा। उन्होंने कहा कि यह घोटाला कांग्रेस सरकार के काल में हुआ है। ऐसे घपलों को रोकने के लिए जयराम सरकार सभी विभागों का कंप्यूटरीकरण कर रही है। सुरेश भारद्वाज ने कहा कि हिमाचल हाईकोर्ट (Himachal High Court) के सुझाव के अनुसार सभी काम किए जा रहे हैं। अगर कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक भी अगर कुछ हुआ है, तो उसकी भी जांच की जाएगी।

 

 

बता दें कि तलाई ग्राम सेवा सहकारी समिति में हुए घोटाले के बारे में बीजेपी के झंडूता विधायक जीत राम कटवाल ने प्रश्नकाल के दौरान सवाल पूछा था। उन्होंने सवाल किया,’उन्होंने यही प्रश्न 2019 में भी पूछा था। तब 36. 90 करोड़ रुपए का घोटाला सामने लाया था। उसके बाद अब वाले जवाब में 17 करोड़ रुपए रिकवर दिखाया गया है। ग्राम सेवा सहकारी समिति में ये घोटाला हुआ है। इसके साथ कांगड़ा बैंक के लोग भी इसमें शामिल थे, इसमें अब तक क्या कार्रवाई की गई है?

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है