Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

Patanjali के जवाब की समीक्षा करेगी Task Force, आयुष मंत्री बोले – पहले लेनी चाहिए थी अनुमति

Patanjali के जवाब की समीक्षा करेगी Task Force, आयुष मंत्री बोले – पहले लेनी चाहिए थी अनुमति

- Advertisement -

नई दिल्ली। पतंजलि (Patanjali) के कोरोना वायरस के इलाज की दवा बनाने के दावे पर आयुष मंत्रालय ने तलवार लटका दी है। आयुष मंत्रालय ने दवा के विज्ञापन पर रोक लगाने के बाद पतंजलि से मांगी गई जानकारी मंत्रालय को दे दी गई है। आयुष मंत्री श्रीपद नाईक ने कहा कि पतंजलि के जवाब और मामले की टास्क फोर्स (Task Force) समीक्षा करेगी कि उन्होंने क्या-क्या फार्मूला अपनाया है। उसके बाद उनको अनुमति दी जाएगी, लेकिन जो प्रोटोकॉल है उसके मुताबिक दवाई बनाने को लेकर दवाई को मार्केट में लाने को लेकर पंतजलि को आयुष मंत्रालय से पहले अनुमति लेनी चाहिए थी।

ये भी पढ़ें – Patanjali द्वारा निर्मित ‘कोरोनिल’ दवा के प्रचार पर आयुष मंत्रालय ने लगाई रोक; मांगे Trial के रिकॉर्ड

 


 

आयुष मंत्रालय भी जुलाई तक मार्केट में ला सकता है दवाई

श्रीपद नाईक ने कहा कि इजाजत नहीं लेना ही हमारी आपत्ति है। अगर कोई दवाई लेकर मार्केट में आता है और बनाता है तो ये खुशी की बात है। उससे किसी को ऐतराज नहीं है। आयुष मंत्रालय भी अपनी दवाई पर काम कर रहा है और जुलाई महीने तक आयुष मंत्रालय भी कोरोना वायरस की दवाई लेकर मार्केट में आ सकता है। गौर हो कि मंगलवार को बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के इलाज का सफल दावा करते हुए दवा लॉन्च की। इस दवा को ‘दिव्य कोरोनिल टैबलेट’ नाम दिया गया है। बाबा रामदेव ने कहा कि पतंजलि ने खतरनाक वायरस के इलाज के लिए इस आयुर्वेदिक दवा को तैयार किया है। उन्होंने बताया कि इस दवा का सेवन करने पर रोगी पांच से 14 दिन के भीतर ठीक हो जाता है। इस दौरान योग गुरु बाबा रामदेव और पतंजलि के सीईओ बालकृष्ण ने इस दवा के क्लीनिकल ट्रायल के नतीजे सामने रखे। इस दवा को पतंजलि रिसर्च इंस्टीट्यूट और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, जयपुर ने मिलकर तैयार किया है। इसका उत्पादन हरिद्वार की दिव्य फार्मेसी और पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड कर रहे हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है