×

अपनी ही सरकार के खिलाफ ध्वाला फिर मुखर, बोले-जब पैसे ही नहीं तो टेंडर क्यों

विधानसभा में उठाया निर्माणाधीन स्कूल भवनों का मुद्दा

अपनी ही सरकार के खिलाफ ध्वाला फिर मुखर, बोले-जब पैसे ही नहीं तो टेंडर क्यों

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल के कांगड़ा (Kangra) जिला के विधानसभा क्षेत्र ज्वालामुखी के विधायक रमेश धवाला (MLA Ramesh Dhawala) एक बार फिर अपनी सरकार के खिलाफ मुखर हुए हैं। हिमाचल विधानसभा (Himachal Vidhan Sabha) के बजट सत्र (Budget Session) में प्रश्नकाल के दौरान उन्होंने ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र में निर्माणाधीन स्कूल भवनों का मुद्दा उठाया। भवनों की स्थिति पर सरकार से जवाब मांगा। सवाल के जवाब में शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर (Education Minister Govind Thakur) ने निर्माणाधीन स्कूल भवनों की पूरी स्थिति के बारे अवगत करवाया, लेकिन रमेश ध्वाला जवाब से संतुष्ट नहीं दिखे। यहां तक कि उन्होंने शिक्षा विभाग पर गलत जानकारी देने का आरोप लगा डाला।


यह भी पढ़ें: ‘धवाला की ज्वाला’ :BJP विधायक बोले-डेढ़ लाख सैलरी लेकर काम नहीं करना भी भ्रष्टाचार

विधायक रमेश ध्वाला ने कहा कि जब पैसे ही नहीं थे तो टेंडर क्यों करवाया गया। टेंडर करवा लिए गए और अब ठेकेदारों को देने के लिए पैसे ही नहीं हैं। इसमें शिक्षा विभाग (Education Department) के साथ-साथ पीडब्ल्यूडी (PWD) दोषी है। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा कि भवनों के निर्माण कार्य कब तक पूरे होंगे, इसकी तय डेट नहीं दे सकता हैं, लेकिन थोड़ा इंतजार करें। इस पर रमेश धवाला ने कहा कि वह पिछले तीन साल से इंतजार ही कर रहे हैं, अब तक इंतजार खत्म नहीं हुआ है।मंत्री ने सवाल के जवाब में बताया कि तीन साल में 31 जनवरी 2021 तक ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र के तहत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं के भवन निर्माण हेतु कुल 6 करोड़ 08 लाख 34 हजार की राशि स्वीकृत की गई है। 11 भवनों के निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं तथा 5 भवनों के निर्माण कार्य प्रगति पर हैं, जबकि 13 भवनों के निर्माण कार्य आरंभ नहीं किए गए हैं। निर्माण कार्यों का पूर्ण बजट उपलब्धता पर निर्भर करता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है