Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,726,507
मामले (भारत)
199,611,794
मामले (दुनिया)
×

अपनी ही सरकार से नाराज MLA, विधायक पद छोड़ने तक को तैयार

अपनी ही सरकार से नाराज MLA, विधायक पद छोड़ने तक को तैयार

- Advertisement -

Mla Ravi Thakur : शिमला। कांग्रेस विधायक रवि ठाकुर अपनी ही सरकार से नाराज चल रहे हैं। नाराजगी इस हद तक है कि वे विधायकी पद छोड़ने तक को तैयार हैं। अफसरशाही से खासे नाराज रवि ठाकुर कभी भी ऐसा कदम उठा सकते हैं। ऐसा कदम उठाने से पहले वे एक बार सीएम वीरभद्र सिंह से बात करना चाहते हैं। रवि ठाकुर जनजातीय जिले लाहौल-स्पिति से कांग्रेस विधायक हैं। वे क्षेत्र की समस्याओं को सरकार तक पहुंचाते हैं और यहां आकर वे समस्याएं अफसरशाही के पेंच में फंस जाती है। इससे विधायक खासे नाराज हैं। वे कई मर्तबा इस बाबत सीएम वीरभद्र सिंह से भी बात कर चुके हैं, लेकिन समस्या का समाधान नहीं निकला है।

उधर, संपर्क करने पर रवि ठाकुर ने कहा कि वे कांग्रेसी हैं और कांग्रेसी ही रहेंगे। उनका कहना था कि सरकार की अफसरशाही कोई कार्य नहीं कर रही। उन्होंने मुख्य सचिव वीसी फारका को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वे विकास कार्य में रोड़ा बने हुए हैं। उन्होंने कहा कि लाहौल स्थिति के विधायक वे हैं और वहां पर तैनात डीसी मुख्य सचिव की शह के चलते उनकी नहीं सुनते। उन्होंने अफसरशाही पर निरंकुशता का आरोप लगाते हुए कहा कि इस संबंध में सीएम वीरभद्र सिंह से भी कई बार बात की। सीएम आदेश भी देते हैं, लेकिन आगे फिर गाड़ी नहीं बढ़ती।


  • अफसरशाही से खासे नाराज रवि ठाकुर उठा सकते हैं ऐसा कदम
  • कोई भी कदम उठाने से पहले सीएम वीरभद्र से करना चाहते हैं बात
  • खफा विधायक बोले, मुख्य सचिव वीसी फारका विकास कार्य में बने रोड़ा

Mla Ravi Thakur : उन्होंने कहा कि उन्हें सीएम वीरभद्र सिंह से कोई शिकायत नहीं है। शिकवा और शिकायत मुख्य सचिव और डीसी लाहौल स्पिति से है। उन्होंने कहा कि इन अफसरों के खिलाफ वे सीएम से फिर बात करेंगे और फिर कोई सुनवाई नहीं हुई  तो वे विधायक पद से इस्तीफा दे देंगे। क्योंकि जब क्षेत्र के कार्य नहीं होंगे तो जनप्रतिनिधि रूप के रूप में रहने का कोई औचित्य नहीं है।

ठाकुर का कहना था कि उन पर क्षेत्र के पंचायत प्रतिनिधियों का दबाव है और वे उनके कहे मुताबिक ही चलेंगे। उन्होंने कहा कि अधिकतर कार्य जिला स्तर पर करने के हैं, लेकिन डीसी मुख्य सचिव की शह के चलते कोई कार्य नहीं कर रहे। ऐसे में वे एक बार सीएम से बात करेंगे और यही सिलसिला जारी रहा तो वे विधायक पद से इस्तीफा दे देंगे और पार्टी के लिए ही कार्य करेंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है