Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,111,851
मामले (भारत)
114,541,104
मामले (दुनिया)

राशन चोरी मामलाः विधायक बोले-आरोपी कांग्रेस से जुड़ा, मामले की हो रही जांच

राशन चोरी मामलाः विधायक बोले-आरोपी कांग्रेस से जुड़ा, मामले की हो रही जांच

- Advertisement -

बिलासपुर। घुमारवीं में खाद्य आपूर्ति विभाग के गोदाम से राशन चोरी मामले ( Ration theft case ) में विधायक राजेंद्र गर्ग सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि मामला संज्ञान में आते ही मामले की सच्चाई जानने के लिए जांच की जा रही है। उन्होंने कांग्रेस पर भी इस मामले को तूल देने का आरोप लगाया है।


यह भी पढ़ें: मुकेश बोलेः गैर हिमाचली चौकड़ी तैयार कर रही मास्टर प्लान, कांग्रेस करेगी जन आंदोलन

 

यहां तक की इस मामले से जुड़े आरोपी को कांग्रेस से संबंधित बताया। बात यही ही समाप्त नहीं हुई विधायक राजेंद्र गर्ग (MLA Rajendra Garg) ने इस चोरी में व्यक्ति को एक ओर कांग्रेस से संबंधित व्यक्ति बताया, मगर साथ ही उस व्यक्ति से बीजेपी (BJP) से जुड़े कुछ नेताओं के नाम जबरदस्ती डरा -धमका कर बुलवाने के भी आरोप लगाए। वहीं, जिला उपभोक्ता संघ के जिलाध्यक्ष महेंद्र रतवान ने भी पत्रकार वार्ता के माध्यम से उनका नाम इस मामले घसीटने के कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाए।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला बिलासपुर (Bilaspur) में बहुत सी सस्ते राशन की दुकानों में राशन नहीं मिल रहा है। घुमारवीं के चैहड़ में ग्रामीणों ने खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के गोदाम से बीस बोरी गेहूं की अवैध रूप से निजी माल वाहक जीप में भरते हुए रंगें हाथों पकड़ा था। ग्रामीणों के द्वारा पूछे जाने पर नियमानुसार चालक (Driver) कोई भी स्वीकृति पत्र सहित बिल नहीं दिखा सका था।


यह भी पढ़ें: ट्रक और बाइक की टक्कर, मणिमहेश से लौट रहे एक युवक की मौत

जब ग्रामीणों ने कड़ाई से पूछा तो इस दौरान साथ आए एक व्यक्ति ने स्वीकार किया कि मार्केट रेट से थोड़ा कम दाम पर दो नंबर में संबंधित विभाग के कर्मचारी उन्हें गेहूं-चावल बेचते हैं। यहां से गेहूं चावल की बोरियां खरीदने के उपरान्त वह थोड़ा अधिक दाम पर बेचकर मुनाफा प्राप्त करते हैं। ग्रामीणों ने प्रदेश सरकार से मांग की थी कि खाद्य एवं आपूर्ति घुमारवीं के अन्नाज भंडारों की सीबीआई से जांच करवाई जाए। ग्रामीणों ने शंका जताई थी कि इस गोरख धंधे में संबंधित विभागों के अधिकारियों-कर्मचारियों सहित बड़े दर्जे के सफेदपोश व्यापारी भी शामिल हैं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है