Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,173,761
मामले (भारत)
116,220,912
मामले (दुनिया)

राम मंदिर पर मोदी की दो-टूक, बोले- कोर्ट के फैसले से पहले अध्यादेश नहीं 

राम मंदिर पर मोदी की दो-टूक, बोले- कोर्ट के फैसले से पहले अध्यादेश नहीं 

- Advertisement -

नई दिल्ली। अयोध्या में राम मंदिर के मु्द्दे पर पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को दो-टूक कहा कि कोर्ट के फैसले से पहले राम मंदिर बनाने को लेकर सरकार कोई अध्यादेश नहीं लाएगी। राम मंदिर को लेकर बेहद अहम बयान दिया है। पीएम मोदी ने मंगलवार को कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए कोई अध्यादेश तभी लाया जा सकता है, जब इस पर कानूनी प्रक्रिया पूरी हो जाए।
एक समाचार एजेंसी को इंटरव्यू में मोदी ने कहा, ‘हमने अपने मेनिफेस्टो में हमने कहा था कि इस मसले का समाधान संवैधानिक तरीके से किया जाएगा।’ बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के अपने घोषणापत्र में कहा था कि वह अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण चाहती है। बीते कुछ दिनों में पार्टी के भीतर से ही और आरएसएस के द्वारा यह कहा जाता रहा है कि राम मंदिर निर्माण के लिए जल्द रास्ता साफ होना चाहिए। आरएसएस से जुड़े संगठन बीते कुछ दिनों से तीन तलाक पर जारी अध्यादेश की ही तर्ज पर राम मंदिर निर्माण के लिए भी ऑर्डिनेंस जारी करने की मांग कर रहे हैं। यहां तक कि बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने भी राम मंदिर के लिए अध्यादेश की मांग की है।

यह भी पढ़ें :  संसद के शीत कालीन सत्र में राम मंदिर और राफेल की गर्मी

जिम्मेदारी निभाने को हैं तैयार

पीएम मोदी ने अध्यादेश के सवाल पर सीधे तौर पर कहा कि यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है और संभवत: आखिरी चरण में है। उन्होंने कहा, ‘कानूनी प्रक्रिया पूरी हो जाने दीजिए। इस प्रक्रिया की समाप्ति के बाद सरकार के तौर पर जो भी जिम्मेदारी होगी, उसके लिए हम तैयार हैं।’ गौरतलब है कि राम मंदिर के मसले पर 4 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है। सुप्रीम कोर्ट में रोजाना सुनवाई की मांग के लिए याचिका दाखिल की गई है।

तीन तलाक पर अध्यादेश SC के फैसले के बाद लाए: मोदी

तीन तलाक पर लाए गए अध्यादेश से राम मंदिर मसले की तुलना को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि दोनों में अंतर है। उन्होंने कहा कि तीन तलाक पर अध्यादेश तब लाया गया, जब सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया था। यह भी सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक ही लाया गया। पीएम मोदी ने पिछली सरकारों पर राम मंदिर मसले को अटकाने का आरोप लगाते हुए कहा कि बीते 70 सालों से शासन कर रही सरकारों ने अयोध्या मसले को अटाकने का काम किया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए सब्सक्राइब करें हिमाचल अभी अभी न्यूज अलर्ट

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है