×

मोदी सरकार ने लगा दी तोहफों की झड़ी, किसान हो या व्यापारी सभी को दिया ‘रिटर्न गिफ्ट’

मोदी सरकार ने लगा दी तोहफों की झड़ी, किसान हो या व्यापारी सभी को दिया ‘रिटर्न गिफ्ट’

- Advertisement -

 


नई दिल्ली। मोदी सरकार (Modi government) की पहली कैबिनेट बैठक (first cabinet meeting) खत्म हो गई है। पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुए इस कैबिनेट बैठक में नरेंद्र मोदी ने सरकार का पहला बड़ा फैसला लेते हुए पीएम मोदी ने नेशनल डिफेंस फंड के तहत PM स्कॉलरशिप योजना में बड़ा बदलाव करते हुए आतंकी और माओवादी हमलों में मारे गए शहीद जवानों के बच्चों की छात्रवृत्ति बढ़ाई है। लड़कियों के लिए स्कॉलरशिप 2250 से बढ़ाकर 3000 रुपए की गई। इसले अलावा पीएम ने देश के किसानों को खास तोहफा देते हुए प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojna) का दायरा बढ़ा दिया है।

यह भी पढ़ें: नूरपुरः सूबेदार जय किशन को सैन्य सम्मान के साथ दी अंतिम विदाई

अब 3 करोड़ और किसानों के खाते में आएंगे हर महीने 2 हजार

कैबिनेट मीटिंग में लिए गए नए फैसले के तहत अब 3 करोड़ और किसानों को हर महीने 2 हजार रुपए मिलेंगे। यानी अब इस योजना का लाभ देश के करीब 15 करोड़ किसानों को मिलेगा। पहले इसके दायरे में सिर्फ 12 करोड़ किसान ही थे। बता दें कि इस योजना के तहत लाभार्थी किसान को साल में तीन बार कुल 6000 रुपए सीधे खाते में मिलते हैं।

प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना: 12 करोड़ किसानों को मिलेगी 3000 रुपए की मासिक पेंशन

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एक नई केंद्रीय क्षेत्र योजना, प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना को मंजूरी दी है। यह देशभर के छोटे और सीमांत किसानों के लिए एक स्वैच्छिक और अंशदायी पेंशन योजना है। केंद्र सरकार पेंशन फंड में किसान द्वारा योगदान के बराबर राशि का योगदान करेगी। इसके अंतर्गत करीब 12-13 करोड़ किसानों को को कवर किया जाएगा। सरकार पहले चरण में 5 करोड़ किसानों तक पहुंचेगी। 18 से 40 वर्ष तक की आयु की किसान इस योजना से जुड़ सकेंगे। उन्हें 60 वर्ष पूरा करने के पश्चात 3000 रुपए मासिक पेंशन मिलेगी। अगर लाभ पाने वाले व्यक्ति की मौत हो गई, तो उसकी पत्नी को 50% रकम मिलती रहेगी। इस योजना पर 10 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे।

5 जुलाई को पेश होगा बजट

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि केंद्रीय बजट 5 जुलाई को पेश किया जाएगा। 17 और 18 जून को होगा सांसदों शपथ ग्रहण। संसद का पहला सत्र 17 जून से शुरू होगा जो 26 जुलाई तक चलेगा। 19 जून को लोकसभा स्पीकर का चुनाव होगा जिसके बाद 20 जून से बजट सत्र की शुरुआत होगी।

खुदरा व्यापारियों और दुकानदारों को भी मिलेगी पेंशन

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने व्यापारियों के लिए पेंशन योजना को मंजूरी दे दी है। इस फैसले से तीन करोड़ खुदरा व्यापारियों और दुकानदारों को फायदा होगा। छोटे दुकानदारों के लिए पेंशन योजना शुरू की गई है। जिसके दायरे में 5 करोड़ से ज्यादा दुकानदार आएंगे। इस योजना के लाभार्थियों में 18 साल से 40 साल तक के दुकानदार शामिल होंगे।

मवेशियों के लिए विशेष योजना को मिली मंजूरी

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आगे कहा कि मंत्रिमंडल ने नियंत्रण और पैर की बीमारी (एफएमडी) और ब्रुक्सोसिस के लिए एक विशेष योजना को मंजूरी दी है। बता दें कि मवेशियों, गाय-बैल, भैंस, भेड़, बकरी, सूअर के बीच पैर और मुंह के रोग (एफएमडी) और ब्रुसेलोसिस के रोग बहुत आम हैं। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के मुताबिक पशुओं के टीके के लिए केंद्र सरकार अब पूरा पैसा देगी। पहले 60 फीसदी केंद्र और 40 फीसदी राज्य देती थी, लेकिन अब पूरा पैसा केंद्र देगी। इसके लिए 13 हजार करोड़ रुपए का आवंटन होगा।

20 जून को संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे राष्ट्रपति

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद 20 जून को संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगे। 4 जुलाई को आर्थिक सर्वेक्षण जारी किया जाएगा।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है