Covid-19 Update

2,04,685
मामले (हिमाचल)
2,00,233
मरीज ठीक हुए
3,491
मौत
31,219,374
मामले (भारत)
192,489,942
मामले (दुनिया)
×

बड़ी खबरः मोदी सरकार ने तिब्बती चिकित्सा को भारत लाने के लिए दलाई लामा का किया धन्यवाद

बड़ी खबरः मोदी सरकार ने तिब्बती चिकित्सा को भारत लाने के लिए दलाई लामा का किया धन्यवाद

- Advertisement -

मैक्लोडगंज। प्रधानमंत्री कार्यालय ने तिब्बती धार्मिक गुरू दलाई लामा (The Dalai Lama) को भारत में पारंपरिक तिब्बती चिकित्सा (Traditional Tibetan medicine) लाने के लिए धन्यवाद किया है। रिपोर्ट के अनुसार मोदी सरकार (Modi Govt)अब तिब्बती चिकित्सा पद्धति जिसे सोवा-रिग्पा के रूप में जाना जाता है, को आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) के तहत बढ़ावा देने के लिए काम कर रही है। सोवा-रिग्पा (Sowa-rigpa) जिसका अर्थ है साइंस ऑफ हीलिंग (Science of Healing) इसे दुनिया की सबसे पुरानी और सबसे अच्छी चिकित्सा प्रणालियों में से एक कहा जाता है । यह पारंपरिक चिकित्सा प्रणाली तिब्बत की स्वदेशी परंपरा है जो आज भारत के अधिकांश हिमालयी क्षेत्रों में व्यापक रूप से प्रचलित है।

यह भी पढ़ें :-रैली के बाद अचानक नाचने लगे असदुद्दीन ओवैसी, वीडियो हुआ वायरल


भारत में शरण लेने के बाद दलाई लामा ने मैक्लोडगंज में तिब्बती चिकित्सा और ज्योतिष संस्थान जिसे Men-tsee-khang कहा जाता है कि स्थापना की। इसके साथ ही उन्होंने निर्वासित तिब्बती समुदाय में भी इस परंपरा को सुरक्षित किया। वर्तमान में Men-tsee-khang एक पूर्ण विकसित संस्थान है जिसका मुख्यालय मैक्लोडगंज में है। जिसकी भारत में ग्रामीण.सुदूर क्षेत्रों और शहरों में 51 शाखा काम कर रही हैं। मोदी सरकार वर्तमान में लेह में राष्ट्रीय अनुसंधान संस्थान फॉर सोवा-रिग्पा एनआरआईएसआर (NRISR) बनाने के प्रस्ताव पर काम कर रही है अब इसका नाम बदलकर राष्ट्रीय संस्था सोवा-रिग्पा एनआईएसआर (NISR)कर दिया गया है। ये स्वायत्त संस्थान आयुष मंत्रालय में केंद्रीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के तहत कार्य करेगा।रिपोर्ट के अनुसार इसे पीएमओ (PMO) द्वारा मंजूरी दे दी गई है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है