Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

पीएम मोदी को मिलेगा रूस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान, दर्जनों कारोबारी समझौते हुए

पीएम मोदी को मिलेगा रूस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान, दर्जनों कारोबारी समझौते हुए

- Advertisement -

नई दिल्ली। रूस (Russia) के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान (Russia’s highest civilian honor) ‘ऑर्डर ऑफ सेंट ऐंड्रयू द अपोस्टल’ देने का ऐलान किया। वहीं मोदी ने इस फैसले के लिए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और रूस की जनता का आभार जताया है। पीएम मोदी और राष्ट्रपति पुतिन ने बुधवार को साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि दोनों देशों के बीच दर्जनों कारोबारी समझौते हुए हैं। इससे पहले पीएम मोदी ने यहां व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात की और दोनों नेताओं ने शिप बिल्डिंग कॉम्प्लेक्स का दौरा किया। बुधवार तड़के जब पीएम रूस के व्लादिवोस्तोक पहुंचे थे, तब भी उनका स्वागत गार्ड ऑफ ऑनर देकर किया गया था और बड़ी संख्या में भारतीय समुदाय के लोग उनके स्वागत करने के लिए वहां पर मौजूद थे।

यह भी पढ़ें-बुढ़ापे में जेल जाना यादि कांग्रेस को लाभ पहुंचाता है तो भगवान ये काम जल्दी कर दे- हरीश रावत

पीएम मोदी ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि मुझे यहां आकर अपार खुशी हो रही है। यह संभव हुआ है राष्ट्रपति पुतिन के निमंत्रण से। मैं व्लादिवोस्तोक आने वाला पहला भारतीय प्रधानमंत्री। यह संयोग है कि राष्ट्रपति पुतिन और मेरे बीच भारत और रूस का 20वां वार्षिक समिट हुआ है। 2001 में ऐसा पहला समिट हुआ था। उस समय पुतिन रूस के राष्ट्रपति थे और मैं अटल जी के साथ गुजरात के सीएम के तौर पर आया था। इसके बाद हम दोनों की दोस्ती का सफर तेजी से आगे बढ़ा है। उन्होंने आगे कहा कि पुतिन और मैं इस रिश्ते को विश्वास के जरिये सहयोग की नई ऊंचाइयों तक ले गए हैं।


यह भी पढ़ें-SC के बाद चिदंबरम को स्पेशल कोर्ट से राहत, पांच सितंबर तक सीबीआई हिरासत में रहेंगे

पीएम ने बताया कि पहला- हमनें सहयोग को सरकारी दायरे से बाहर लाकर उससे लोगों को जोड़ा है। रक्षा जैसे एरिया में भी रूसी उपकरणों के स्पेयर पार्ट भारत में बनाने का समझौता हुआ है। भारत में रूस के सहयोग से बन रहे हैं न्यूक्लियर प्लांट के बढ़ने को लेकर भागीदारी विकसित हो रही है। दूसरा- हम अपने रिश्ते को राजधानी के बाहर भी ले जा रहे हैं। एक तरफ मैं लंबे अर्से तक गुजरात का मुख्यमंत्री रहा हूं और पुतिन भी रूस के रीजन की क्षमताओं को अच्छे से जानते हैं। पीएम द्वारा बताया गया कि पुतिन के निमंत्रण के बाद हमनें तैयारी शुरू कर दी थी। इसके लिए भारत के कॉमर्स मिनिस्टर और कई सीएम यहां आए। और कोयला, डायमंड, टिम्बर और टूरिज्म में अनेक संभावनाएं विकसित हुई है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है