Expand

मोदी की सिंह गर्जनाः बिना नाम लिए वीरभद्र पर कसा तंज

मोदी की सिंह गर्जनाः बिना नाम लिए वीरभद्र पर कसा तंज

- Advertisement -

यशपाल शर्मा/मंडी। काशी के सांसद व देश के प्रधानमंत्री छोटी काशी में विरोधियों पर खूब बरसे। उन्होंने जनहित में किए कार्य गिनाने के साथ ही कांग्रेस को जमकर लताड़ा। पीएम नरेंद्र मोदी ने सीएम वीरभद्र सिंह पर तंज कसा।

  • मंडी के साथ ही हिमाचल से नाता जोड़कर मांगा परिवर्तन

उन्होंने कहा कि बीजेपी के पूर्व सीएम शांता कुमार की पहचान पानी वाले मुख्यमंत्री, प्रेम कुमार धूमल की पहचान सड़कों वाले मंत्री की राज्य में बनी। अभी जो मुख्यमंत्री हैं उनकी क्या पहचान है, ये मुझे बताना पड़ेगा क्या। इस पर भीड़ ने खूब शोर मचाया। मोदी यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा कि बीजेपी के मुख्यमंत्रियों ने जनता के लिए अपना सब कुछ खपा दिया। जबकि और लोग सत्ता में आये तो उन्होंने अपने लिए पता नहीं क्या-क्या खपा लिया।

pm2राज्य सरकार पर बातों-बातों में ली चुटकियां

पीएम मोदी ने प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाया। मोदी का भाषण लगभग 40 मिनट तक चला। उन्होंने सवा बजे बोलना शुरू किया और 12.54 बजे पर वाणी को विराम दिया। इसके बाद वे मंडी के पड्डल मैदान से लुधियाना के लिए रवाना हुए। लुधियाना में मोदी को चरखे बांटने हैं। मोदी ने प्रदेश सरकार पर बरसते हुए कहा कि केंद्र की कृषि बीमा योजना को हिमाचल में सही से लागू नहीं किया जा रहा है। यहां कि सरकार और अधिकारियों का योजना के प्रति उत्साह ठंडा है। वे फ़ूड प्रोसेसिंग को बढ़ावा दे रहे हैं ताकि हिमाचल के बागवानों और किसानों को भी लाभ हो।

मोदी ने पड्डल मैदान पर पहुंचने के बाद जनता का झुककर अभिवादन किया। उन्होंने लगभग 40 मिनट भाषण दिया और वह एक घंटा 40 मिनट तक शिव भूमि स्थित पड्डल मैदान में रहे। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत में न केवल जनता के साथ भावुक अंदाज में बात की, बल्कि सरकार बनने के बाद देरी से आने पर खुद की गलती भी मानी। मंडी आऊं तो सेपू बढ़ी की याद तो आएगी ही, बिना झोल के काम कैसे चलेगा। अब इनसे तो नाता टूट गया है, लेकिन टेस्ट ऑफ़ मंडी अभी बरकरार है। पीएम बोले, आप समझते ही हैं कि नई जिम्मेदारी संभालने पर काम कितना समझना और करना पड़ता है। कुल्लू दशहरा देश के साथ ही विदेश में भी प्रसिद्ध है। कभी देखने आऊंगा। दशहरा खत्म होने के बाद भगवान रघुनाथ घर लौट चुके हैं। उनका आना और लौटना भी ऊर्जा का संचार करता है। हिमाचल की धरती से भी मंगलवार यानि आज पूरे देश को नई ऊर्जा की शक्ति मिली है। एक साथ तीन परियोजनाओं का शुभारम्भ किया। जब पार्वती परियोजना का शिलान्यास हुआ था तो मैं मौजूद था। सोचा नहीं था कि उद्घाटन के मौके पर भी आऊंगा। ये संयोग ही है। अटल जी हिमाचल को अपना दूसरा घर मानते थे, वह इस प्रदेश के लिए उनकी दूरदृष्टि को नमन करते हैं।

modi2याद रहे कि मोदी पीएम बनने के बाद पहली बार मंगलवार को हिमाचल प्रदेश पहुंचे थे। यहां मंडी पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान उन्होंने 1732 मेगावाट क्षमता के 3 जल विद्युत परियोजनाओं को देश को समर्पित किया। इनमें एनटीपीसी की 800 मेगावाट की कोल डैम, एनएचपीसी की 520 मेगावाट की पार्वती तृतीय व एसजेवीएनएल की 412 मेगावाट क्षमता की रामपुर पन विद्युत प्रोजेक्ट शामिल हैं। इससे पहले उनका मंडी पहुंचने पर सीएम वीरभद्र सिंह उनके मंत्रिमंडल के दो सहयोगी कौल सिंह ठाकुर व सुजान सिंह पठानिया ने स्वागत किया। सीएम ने मोदी को हरी टोपी के साथ-साथ शाल भी पहनाई। इसके बाद पीएम को चंबा रूमाल भी भेंट किया। इस अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, पीयूष गोयल व नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल भी मौजूद रहे।

sukhu-6सुक्खू बोले पीएम की पड्डल रैली फ्लॉप

शिमला। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने बीजेपी की परिवर्तन रैली को फ्लॉप करार देते हुए कहा कि इस रैली में जहां पर एक लाख लोगों के पहुंचने की बात की जा रही है जबकि सभी जानते हैं कि पड्डल में तीन हेलीकॉप्टर खड़े रहने के बाद कितनी जगह बचती है।

  • उन्होंने कहा कि पीएम ने के आने से हिमाचल को लोगों के हात निराशा ही नहीं है पीएम ने लोगों से चुनावों के दौरान जो भी वादे किए थे उम्मीद थी कि पीएम पर जरूर कुछ करेंगे पर ऐसा नहीं हुआ।
  • जहां तक तीन प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन की बात हैं वे एक साल पहले से ही शुरू हो चुके हैं। सभी कांग्रेस की देन है।
  • सुक्खू ने कहा कि पीएम ने सीएम वीरभद्र सिंह पर जो टिप्पणी की है वो उन्हें शोभा नहीं देतीष सीएम वीरभद्र सिंह विकास के मुक्यमंत्री के नाम से जाने जाते हैं।

https://youtu.be/kdaDc-Vv4mQ

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है