Covid-19 Update

59,118
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,228,288
मामले (भारत)
117,215,435
मामले (दुनिया)

धन-सुख-शान्ति की वृद्धि करे मोर पंख

धन-सुख-शान्ति की वृद्धि करे मोर पंख

- Advertisement -

mor pankh: मोर पंख यूं तो हर घर में मिल जाता है, पर क्या आप इसके फायदे जानत हैं। जी हां मोर पंख अपने अंदर कई गुण छिपाए बैठा है। यदि मोर का एक पंख किसी मंदिर में श्री राधा-कृष्ण की मूर्ति के मुकुट में 40 दिन के लिए स्थापित कर प्रतिदिन मक्खन-मिश्री काभोग सांयकाल को लगाएं 41 वें दिन उसी मोर के पंख को घर लाकर अपने खजाने या लाकर्स में स्थापित करें तो आप स्वयं ही अनुभव करेंगे कि धन-सुख-शान्ति की वृद्धि हो रही है और  रुके काम बनते जा रहे हैं।

  • कालसर्प वाले व्यक्ति अपने तकिये के खोल के अंदर 7 मोर के पंख सोमवार रात्रि  में डालें तथा प्रतिदिन इसी तकिये का प्रयोग करें और अपने बैड रूम की पश्चिम दीवार पर मोर के पंख का पंखा जिसमे कम से कम 1 मोर के पंख तो हों लगा देने से काल सर्प दोष के कारण आई बाधा दूर होती है
  • बच्चा जिद्दी हो तो इसे छत के पंखे के पंखों पर लगा दें ताकि पंखा चलने पर मोर के पंखों की हवा बच्चे को लगे धीरे-धीरे हवा जिद कम होती जायेगी।
  • यदि मोर का पंख घर के पूर्वी और उत्तर- पश्चिम दीवार में या अपनी जेब व डायरी में रखा हो तो राहु का दोष  भी नहीं परेशान करता है तथा घर में सर्प, मच्छर ,बिच्छू आदि जंतुओं का भय नहीं रहता है
  • नवजात बालक के सिर की तरफ दिन-रात एक मोर का पंख चांदी के ताबीज में डाल कर रखने से बालक डरता नहीं है तथा कोईभी नजर दोष और से बचा रहता है
  • यदि शत्रु अधिक तंग कर रहे हो तो मोर के पंख पर हनुमान जी के मस्तक के सिन्दूर से मंगलवार या शनिवार रात्रि में उसका नाम लिख कर अपने घर के मंदिर में रात भर रखें प्रातःकाल उठकर बिना नहाए चलते पानी में बहा देने से वह शत्रुता छोड़ कर मित्रता का व्यवहार करने लगता है ।
वास्तु दोष के निवारण के लिए मुख्य द्वार पर लगाएं पवन घंटी

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है