Covid-19 Update

59,118
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,228,288
मामले (भारत)
117,215,435
मामले (दुनिया)

मुख्यमंत्री निरोग योजना के तहत 9 माह में 10 लाख से ज्यादा का हुआ पंजीकरण

मुख्यमंत्री निरोग योजना के तहत 9 माह में 10 लाख से ज्यादा का हुआ पंजीकरण

- Advertisement -

शिमला। मुख्यमंत्री निरोग योजना के तहत पिछले 9 माह में 10 लाख से ज्यादा लोगों का पंजीकरण किया जा चुका है, जिसमें 18-30 आयु वर्ग के 1.68 लाख लोग भी शामिल हैं। इस योजना के अंतर्गत वर्ष 2019-20 में 20 लाख लोगों के पंजीकरण का लक्ष्य रखा गया है और 2022 तक पूरे प्रदेश के सभी लोगों को पंजीकृत करने का लक्ष्य है।

यह भी पढ़ें: कोटरोपी हादसे के शिकार सैनिक के परिवार को 50 लाख का मिलेगा मुआवजा

इस समस्या से निपटने के लिए सीएम जयराम ठाकुर ने अपने बजट भाषण 2018-19 में 18-30 वर्ष के आयु वर्ग की भी वार्षिक जांच करके उनमें जोखिम कारकों का पता करने व उनमें किसी बीमारी के आरंभिक लक्षणों का पता लगाने के लिए मुख्यमंत्री निरोग योजना की घोषणा की और इस योजना को नवंबर 2018 को अधिसूचित किया गया। यह योजना पूरे प्रदेश में लागू कर दी गई है। आज विधानसभा में निदेशक ई टेक सर्विस प्राइवेट लिमिटेड विकास राजपूत ने इस उपलब्धि के लिए स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार का स्मृति चिन्ह देकर धन्यवाद किया।

यह योजना पूरे देश में इस तरह का पहला प्रयास है, जिसमें पूरी जनसंख्या के जोखिम कारकों, बीमारियों का प्रदेश स्तर से लेकर गांव-गांव तक की जानकारी E – Health Card के माध्यम से आशा कार्यकर्ताओं और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा जुटाई जा रही है। इस योजना से 15 जोखिम कारकों व 10 गंभीर बीमारियों का एकीकृत रूप से पता लगाया जा रहा है, जिसका लाभ पूरे प्रदेश में गांव गांव तक अस्क्रामक रोगों जैसे की डायबिटीज, ब्लड प्रेशर व कैंसर जैसे भयानक रोगों के निदान व उपचार में मिल रहा है।

मुख्यमंत्री निरोग योजना स्वास्थ्य देखभाल की निरन्तरता की दिशा में एक मील का पत्थर है। पूरे देश में 0-18 वर्ष के आयु वर्ग की वार्षिक स्वास्थय जांच के लिए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम चलाया जा रहा है और 30 वर्ष से उपर के आयु वर्ग की वार्षिक जांच के लिए एनसीडी (NCD) प्रोग्राम चलाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत वर्ष में एक बार बीपी (BP) ,शूगर तथा अन्य असंक्रामक रोगों की जांच की जाती है। यह एक सोचने का विषय है कि 18-30 वर्ष आयु वर्ग की वार्षिक जांच के लिए कोई विशेष कार्यक्रम नहीं था, जबकि असंक्रामक रोगों के मुख्य कारक जैसे कि तंबाकू, शराब, अस्वस्थ खान पान / बाहर का खाना और कम शारीरिक श्रम इसी आयु वर्ग में सबसे जयादा देखा जाता है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है