Covid-19 Update

2,17,140
मामले (हिमाचल)
2,11,871
मरीज ठीक हुए
3,637
मौत
33,501,851
मामले (भारत)
229,513,714
मामले (दुनिया)

कोरोना संकट के बीच UP में मृत मिले 300 से ज्यादा चमगादड़, लोगों में दहशत

कोरोना संकट के बीच UP में मृत मिले 300 से ज्यादा चमगादड़, लोगों में दहशत

- Advertisement -

गोरखपुर। कोरोना संकट के बीच एक बार एक साथ सैकड़ों चमगादड़ों की मौत ने लोगों को परेशान कर दिया है। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोरखपुर में ग्रामीण क्षेत्र खजनी रेंज के बेलघाट गांव स्थित एक बाग में 300 से अधिक संख्या में चमगादड़ (Bats) मृत पाए गए। अचानक बड़ी संख्या में चमगादड़ों की मौत से ग्रामीणों में दहशत है। हालांकि चमगादड़ों के मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। वन विभाग प्रथम दृष्टया इनके मौत का कारण अचानक बढ़ी गर्मी व पानी की कमी बता रहा है।

यह भी पढ़ें: HP High Court के पूर्व मुख्य न्यायाधीश का निधन, कोरोना रिपोर्ट आई Positive

 

बरेली में होगा तीन चमगादड़ों का पोस्टमार्टम

जानकारी के अनुसार बेलघाट स्थित ध्रुव नारायण शाही के बाग में सुबह बड़े पैमाने पर चमगादड़ मृत देखे गए। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। सुबह करीब 11 बजे सूचना मिलने के बाद खजनी रेंजर देवेंद्र कुमार भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने सभी मृत चमगादड़ों को एकत्रित करके वह उन्हें पोस्टमार्टम (Post mortem) के लिए भेजा। उन्होंने कहा कि मौत का कारण अभी पूरी तरह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है। अचानक गर्मी बढ़ने के चलते भी ऐसा हो सकता है। उनका कहना है कि इर्द-गिर्द के सभी तालाब सूखे हुए हैं। पानी की तलाश में चमगादड़ इधर-उधर भटक रहे हैं। पानी ना मिलने और ऊपर से बेतहाशा गर्मी के कारण चमगादड़ों की मौत हो गई होगी। चमगादड़ों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट रूप से कुछ बताया जा सकता है। मृत पाए गए चमगादड़ों में से तीन के शव सुरक्षित जार में रखकर उसे पोस्टमार्टम के लिए बरेली भेजा जाएगा। पशुचिकित्साधिकारी बेलघाट चमगादड़ों को जार में रखने की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए वह अपने उच्चाधिकारियों से भी राय ले रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है