Covid-19 Update

2,16,430
मामले (हिमाचल)
2,11,215
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,380,438
मामले (भारत)
227,512,079
मामले (दुनिया)

HRTC के 900 से अधिक पीस मील वर्कर को 5 माह से नहीं मिला मानदेय

HRTC के 900 से अधिक पीस मील वर्कर को 5 माह से नहीं मिला मानदेय

- Advertisement -

धर्मशाला। कोरोना संकट के बीच हिमाचल पथ परिवहन निगम (HRTC) की कार्यशालाओं पर तैनात पीस मील वर्कर को 5 माह से मानदेय नहीं मिला है। इससे पीस मील वर्कर (Peace Mile Workers) के सामने परिवार चलाने का संकट पैदा हो गया है। पीस मील वर्कर को निगम की कार्यशालाओं में तकनीकी कार्य करने की एवज में मानदेय दिया जाता है, लेकिन आज तक एचआरटीसी की कार्यशालाओं में काम कर रहे 900 से अधिक पीस मील वर्कर को इसका इंतजार है। अधिकारी शीघ्र ही इनको मानदेय देने की बात कह रहे हैं। यह मामला सरकार व एचआरटीसी प्रबंधन के विचाराधीन है। पूर्व परिवहन मंत्री जीएस बाली ने कहा कि हिमाचल पथ परिवहन निगम की कार्यशालाओं में 900 से अधिक पीस मील वर्कर सेवाएं दे रहे हैं, जिनकी कार्यकुशलता के कारण ही एचआरटीसी की बसें दिन-रात पेचीदा सड़कों और विषम मौसम में सेवाएं दे रही हैं।

यह भी पढ़ें: सीएम साहब : टैक्सी ऑपरेटरों से Goods and Passenger Tax परिवहन विभाग के माध्यम से वसूला जाए

 

 

कोरोना के दौर में ये सिर्फ 900 कर्मियों की बात नहीं है, बात 900 से अधिक परिवारों की है। अगर कोरोना संकट के कारण बसें खड़ी हैं और उन्हें काम नहीं दिया जा रहा तो इसमें पीस मील वर्कर की क्या गलती है। ये सरकार की जिम्मेदारी है कि मुश्किल दौर में इन मेहनतकश पीस मील वर्कर का चूल्हा जलता रहे और बच्चों को भूखा ना सोना पड़े। उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur)  से पीस मील वर्कर्स को तुरन्त उनका मानदेय देने की मांग उठाते हुए कहा कि जो उनका हक भी है। पीस मील वर्कर की समस्या का शीघ्र हल नहीं किया जाता है तो कांग्रेस पार्टी उनके लिए सड़कों पर उतरने से भी गुरेज नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार को मेरा सुझाव है कि कोरोना के इस दौर में सबका ख्याल रखें। चाहे वे पक्के कर्मचारी हों, अनुबंध कर्मी हों, दिहाड़ीदार हों, कारोबारी हों या आम लोग। सरकार अपनी जिम्मेदारी से मुंह ना मोड़े और किसी को उसके हकों के लिए ना तरसाए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है