Covid-19 Update

58,598
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,095,852
मामले (भारत)
114,171,879
मामले (दुनिया)

हिमाचल: 7 हजार से अधिक पेंशनर जिंदा या मुर्दा, EPFO भी हुआ परेशान

हिमाचल: 7 हजार से अधिक पेंशनर जिंदा या मुर्दा, EPFO भी हुआ परेशान

- Advertisement -

शिमला। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) की तरफ से पेंशन लेने वाले हिमाचल प्रदेश के करीब 7 हजार से अधिक पेंशनर जिंदा हैं या मुर्दा इस बात का पता नहीं चल पा रहा है। दरअसल इन 7 हजार से अधिक पेंशनर्स का डिजिटल लाइव सर्टिफिकेट ऑनलाइन अपडेट नहीं हो पाया है। जिसकी वजह से इन्हें पेंशन नहीं मिल पा रही है।

यह भी पढ़ें: सीएम ने दुबई में एसीएआई के सदस्यों के साथ बैठक कर निवेश के लिए आमंत्रित किया

 

हालांकि इसके पीछे एक कारण यह भी हो सकता है कि उनकी मृत्यु हो गई हो और उनके परिजनों ने इसकी सूचना ईपीएफओ को नहीं दी है या फिर कुछ ऐसे भी पेंशनर हो सकते हैं, जो बहुत ज्यादा बुजुर्ग हो गए हैं और अपना लाइव सर्टिफिकेट अपडेट करने लोकमित्र केंद्र तक नहीं पहुंच सकते हैं।

बता दें कि प्रदेश में कुल 35 हजार पेंशनर हैं, जो ईपीएफओ के माध्यम से पेंशन लेते हैं। इन लोगों को पेंशन पाने के लिए अपने नजदीकी लोकमित्र केंद्र से फिंगर प्रिंट और आधार कार्ड के जरिए अपने जीवित होने का प्रमाण देना पड़ता है। जिसके बाद उन्हें पेंशन दी जाती है।

इस बारे में बताते हुए ईपीएफओ के क्षेत्रीय आयुक्त सुदर्शन कुमार ने बताया कि ऐसे पेंशनरों के परिजन इसकी जानकारी ईपीएफओ में दें, ताकि वे अपने विभाग से किसी को भेजकर पेंशनरों के घर पर उनके फिंगर प्रिंट ले सकें। बहरहाल, यह चिंता का विषय जरूर है कि जिस पेंशन पर बुढ़ापा कटना था, वो उन तक नहीं पहुंच पा रही है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है