Expand

संत बनी मदर टेरेसा, पोप फ्रांसिस ने दी उपाधि

संत बनी मदर टेरेसा, पोप फ्रांसिस ने दी उपाधि

- Advertisement -

मदर टेरेसा को वेटिकन सिटी में संत की उपाधि से नवाजा गया। वेटिकन सिटी में हुए एक समारोह में रोमन कैथोलिक चर्च के पोप फ्रांसिस ने मदर टेरेसा को संत घोषित किया। इस मौके पर दुनियाभर से आए मदर टेरेसा के एक लाख अनुयायी भी मौजूद रहे। मदर टेरेसा को संत की उपाधि के लिए करीब 20 साल से प्रक्रिया चल रही थी। आखिरकार यह इंतजार खत्म हुआ और रविवार को मदर टेरेसा को ये उपाधि दी गई। पोप फ्रांसिस ने मदर टेरेसा को संत का दर्जा देने की घोषणा मार्च में की थी। कार्यक्रम सेंट पीटर स्क्वायर पर भारतीय समयानुसार दोपहर 2 बजे शुरु हुआ। मदर टेरेसा को दो चमत्कार साबित होने पर यह संत की उपाधि दी गई है। कार्यक्रम में भारत का एक प्रतिनिधिमंडल भी वहां उपस्थित मौजूद रहा। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने किया, जिसमें दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पं. बंगाल की सीएम ममता बनर्जी व अन्य शामिल रहे। मिशनरी ऑफ चेरिटी की सुपीरियर जनरल सिस्टर मेरी प्रेमा के नेतृत्व में देश के विभिन्न हिस्सों से आई 40 से 50 ननों का समूह भी इस समारोह में मौजूद रहा। इसके अलावा कोलकाता के आर्कबिशप थॉमस डिसूजा व भारत भर से 45 बिशप इस समारोह के लिए वेटिकन में रहे।
BRANDगरीबों की मां मदर टेरेसा
मदर टेरेसा का जन्म 26 अगस्त, 1910 को अल्बानिया में हुआ था। उनका मूल नाम अग्नेसे गोंकशे बोजाशियु था। 1928 में वह नन बन गईं थी। जिसके बाद लोग उन्हें सिस्टर टेरेसा के नाम से बुलाने लगे। नोबेल पुरस्कार विजेता मदर टेरेसा ने 1950 में मिशनरी ऑफ चैरिटी की स्थापना की थी, जो अब 133 देशों में काम करता है। 5 सितंबर 1997 को मदर टेरेसा का निधन हो गया था।
कई सम्मानों से सम्मानित हैं मदर टेरेसा
मदर टेरेसा का संपूर्ण जीवन लोगों की सेवा में बीता । उन्होंने भारत में गरीब, असहाय, अनाथ बच्चों, कुष्ठ रोगियों के लिए स्कूल, आश्रम व अस्पताल खोले। उनके इस योगदान को देखते हुए उन्हें कई सम्मानों से सम्मानित भी किया गया।  इसके अतिरिक्त 1980 में भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से उन्हें सम्मानित किया जा चुका है। बनारस हिंदू विश्वविद्यालय ने उन्हें डी लिट की उपाधि से सम्मानित किया था।Mother-Teresha

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है