शराब पीकर गाड़ी चलाई तो 10 हजार जुर्माना

शराब पीकर गाड़ी चलाई तो 10 हजार जुर्माना

- Advertisement -

नई दिल्ली। सड़कों पर अब संभलकर चलें, क्योंकि मोटर व्हीकल कानून पहले से कहीं ज्यादा सख्त होने जा रहा है। केंद्रीय कैबिनेट ने बहुप्रतीक्षित मोटर यान (संशोधन) विधेयक 2016 को मंजूरी दे दी। इस संशोधन विधेयक में यातायात नियमों के उल्लंघन पर भारी जुर्माना लगाने का प्रस्ताव है। इन प्रस्तावों में शराब पीकर गाड़ी चलाने पर 10 हजार रुपए तक का जुर्माना और ‘हिट एंड रन’ मामलों के लिए दो लाख रुपए का मुआवजा शामिल हैं। सड़क हादसे में मौत होने की स्थिति में 10 लाख रुपए तक के मुआवजे का प्रावधान विधेयक में किया गया है। खतरनाक ढंग से वाहन चलाने पर जुर्माना एक हजार रुपए से बढ़ा कर 5000 रुपए कर दिया गया है। नशे में गाड़ी चलाने पर 10 हजार रुपए का जुर्माना होगा। ओवरलोडिंग की स्थिति में 20 हजार रुपए का जुर्माना होगा। सीट बेल्ट नहीं पहनने पर एक हजार रुपए का जुर्माना होगा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा-‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट ने मोटर यान (संशोधन) विधेयक 2016 को मंजूरी प्रदान कर दी।

Why-Do-Teens-Drink-And-Drivक्या है नियम

अब सड़क पर ट्रैफिक नियम तोड़ने पर 10 गुना ज्यादा जुर्माना वसूला जाएगा। बिना लाइसेंस के वाहन चलाते पकड़े गए तो अब 500 रुपए की जगह 5,000 रुपए जुर्माना देना होगा। तय सीमा से ज्यादा रफ्तार में गाड़ी चलाई तो 400 की बजाय एक हजार से 4 हजार रुपए तक देने होंगे। शराब पीकर गाड़ी चलाते पकड़े गए तो 2000 की जगह अब 10,000 रुपए जुर्माना लगेगा। बिना सीट बेल्ट के लिए जुर्माना राशि 100 रुपए की बजाय अब 1000 रुपए होगी । बिना हेल्मेट के निकले तो भी 100 रुपए जुर्माना देकर नहीं छूट पाएंगे। इसके लिए 1000 रुपए जुर्माना देना होगा। साथ ही 3 महीने के लिए लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा। सड़कों पर हिट एंड रन जैसे मामलों को भी सरकार ने बेहद गंभीरता से लिया है। अब अगर सड़क हादसा किसी नाबालिग की वजह से हुआ तो हादसे के लिए नाबालिग के माता पिता या गाड़ी के मालिक को दोषी माना जाएगा। गाड़ी का रजिस्ट्रेशन तो रद्द होगा ही 25 हजार रुपए जुर्माने के साथ-साथ 3 साल के लिए जेल भी जाना पड़ सकता है। यही नहीं, हिट एंड रन मामलों में पीड़ित को मुआवजा राशि 25 हजार रुपए से बढ़ाकर दो लाख रुपए कर दी गई है। जबकि सड़क हादसे में मौत पर पीड़ित के परिवार को अब 10 लाख रुपये का मुआवजा मिलेगा।

I will say though, I am frustrated to be going back through the submission process and dealing with rejection https://pro-essay-writer.com/ again.

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है