Covid-19 Update

59,059
मामले (हिमाचल)
57,473
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,204,179
मामले (भारत)
116,873,133
मामले (दुनिया)

Gudiya Rape & Murder Case में चरानी की गिरफ्तारी के बाद Shanta ने भी उठाए सवाल

Gudiya Rape & Murder Case में चरानी की गिरफ्तारी के बाद Shanta ने भी उठाए सवाल

- Advertisement -

पालमपुर। पूर्व सीएम और लोकसभा सांसद शांता कुमार ने Gudiya Rape Murder Case में CBI द्वारा चरानी की गिरफ्तारी के बाद सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि Gudiya Rape Murder Case के संबंध में सीबीआई ने तहसील बैजनाथ (कांगड़ा) निवासी एक चरानी को असली गुनहगार कहा है। यदि सचमुच केवल वहीं गुनहगार है तो लंबे अरसे के बाद इस अपराध की गुत्थी को सुलझाने के लिए उन्होंने CBI को बधाई दी है। परन्तु यदि असली गुनाहगार अब भी बच गया है तो यह एक अत्यन्त दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मनाक घटना होगी।

उन्होंने कहा है कि एक साधारण चरानी को बचाने के अपराध के लिए Himachal Police के IG समेत आठ अधिकारी जेल में हैं। Himachal Pradesh के इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ। एक चरानी को बचाने के लिए हवालात में बंद एक गवाह की हत्या पुलिस द्वारा ही करवाई गई। यह बातें भी किसी के गले से नहीं उतर रही है। पूरे प्रशासन की विश्वनीयता दांव पर है। Shanta Kumar ने कहा है कि इस अपराध में Himachal Police के प्रमुख अधिकारी पकड़े गए। अभी तक जेल में हैं। कहीं ऐसा तो नहीं कि उन्होंने सभी प्रकार की गवाही के तथ्यों को इस प्रकार से समाप्त कर दिया है कि असली अपराधी को पकड़ा नहीं जा सका।

Shanta बोले, पूरे देश में छोटे बच्चों से बढ़ रहे हैं अपराध

Shanta Kumar ने कहा है कि पूरे देश में छोटे बच्चों से अपराध बढ़ रहे हैं। 1916 में इन अपराधों की सख्ंया 86 प्रतिशत बढ़ी है। प्रतिदिन इस प्रकार के समाचारों से सब का सिर शर्म से झुक जाता है। दिल्ली के निर्भय कांड के बाद लोगों के गुस्से का सैलाब सरकार की सक्रियता और वर्मा आयोग की रिपोर्ट के बाद ऐसा लगा था कि यह अपराध रुक जांएगे, परंतु अपराध तेज गति से बढ़ रहे हैं। निश्चित रूप से इसका एक बड़ा कारण प्रशासन और पुलिस की लापरवाही और अयोग्यता भी है।

Shanta Kumar ने कहा है कि गुड़िया कांड में Himachal Police से लोगों का विश्वास उठा। CBI ने जांच की, यदि यह जांच भी लोगों की विश्वनीयता प्राप्त न कर सकी तो न्याय के लिए लोग कहां जाएंगे। उन्होंने CBI और सरकार से यह मांग की है कि इस जांच पर एक बार फिर से पूरी पड़ताल कर ली जाए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है