Covid-19 Update

1,53,717
मामले (हिमाचल)
1,11,878
मरीज ठीक हुए
2185
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

Shanta के तीखे बोल, जब State Govt ही धोखेबाज तो प्रशासन से…

Shanta के तीखे बोल, जब State Govt ही धोखेबाज तो प्रशासन से…

- Advertisement -

पालमपुर। यदि प्रदेश सरकार ही भारत सरकार से धोखेबाजी करती है तो नीचे के प्रशासन में ईमानदारी कहां से आएगी। यह कहना है कांगड़ा-चंबा से वर्तमान लोकसभा सांसद शांता कुमार का। शांता कुमार ने नेरचैक मेडिकल कालेज के मामले में प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रदेश में तीन नए मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा की, उससे प्रदेशवासियों में बहुत अधिक प्रसन्नता हुई, परन्तु उन तीनों कॉलेज में पूरे प्रबन्ध न किए जाने के कारण बहुत अधिक चिंता हो रही है। नेरचौक में कई करोड़ रुपये कॉलेज भवन के लिए खर्च किए जा चुके हैं। एमसीआई की टीम जांच के लिए वहां आई और सुविधाओं का अभाव पाया। सबसे अधिक चिन्ता का विषय यह है कि भारत सरकार द्वारा भेजी गई एमसीआई टीम की आंखों में धूल झोकने के लिए पास-पड़ोस के अस्पतालों के कुछ डॉक्टरों को कॉलेज में अध्यापक के रूप में बिठा दिया गया। सरकार के टांडा कॉलेज में भी कई बार ऐसा हो चुका है, जब एमसीआई की टीम जांच करके चली जाती है तो उन डॉक्टरों को फिर वापस सरकारी अस्पताल में भेज दिया जाता है।govt


  • सांसद शांता कुमार ने प्रदेश सरकार पर साधा निशाना
  • नेरचौक मेडिकल कॉलेज पर धोखेबाजी करने का जड़ा आरोप शिक्षा के साथ बंद हो खिलवाड़

पूर्व सीएम और कांगड़ा-चंबा से वर्तमान लोकसभा सांसद शांता कुमार ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश में दूरदराज पिछडे़ इलाकों में स्वस्थ्य सुविधाओं का बहुत अधिक अभाव है। यहीं हालत शिक्षा विभाग में है। 30 नए कॉलेज खोल दिए गए हैं। बहुत से कॉलेजों में न भवन है न पूरे अध्यापक हैं। स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में सरकार का यह व्यवहार अति दुर्भाग्यपूर्ण है। सरकार ऐसे निणर्य करे, जिसे पूरी तरह से सफल बनाया जा सकता हो। शांता कुमार ने प्रदेश सरकार से आग्रह किया है कि शिक्षा के साथ इस प्रकार का खिलवाड़ बंद किया जाए और प्रदेश सरकार ही केन्द्र सरकार की आंखों में धूल झोकने के लिए इस प्रकार की धोखेबाजी न करे।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है