×

राहत : अब नहीं फिसलेंगे राहगीर

राहत : अब नहीं फिसलेंगे राहगीर

- Advertisement -

शिमला। राजधानी में बर्फबारी के बाद स्थिति को पटरी पर लाने के लिए जिला प्रशासन और नगर निगम ने कार्रवाई तेज कर दी है। सबसे पहले प्रशासन ने आम लोगों को राहत पहुंचाने का काम किया है। शिमला के महत्वपूर्ण मार्गों से फिसलन को हटाने के लिए देर रात से अल सुबह तक प्रशासन ने रेत और मिट्टी डालने की मुहिम शुरू कर रखी है, जिसके सकारात्मक परिणाम भी सामने आए हैं।


  • फिसलन और बर्फ से जमीं सड़कों को चकाचक करने में जुटा प्रशासन
  • शाम से लेकर अल सुबह तक डाली जा रही रेत-मिट्टी

गौर रहे कि बर्फ को  सड़कें से हटाने के बाद रात को गिरने वाला पाला सुबह तक ठोस होकर जम रहा था, जिससे एक ओर राहगीर गिर रहे थे, वहीं कई गाड़ियां भी हादसे का शिकार हो रही थी।

इसे देखते हुए प्रशासन रात-रात को सभी फिसलन वाले मार्गों पर रेत डाल रहा है, ताकि सुबह और शाम को पैदल सफर करने वाले लोगों और वाहन चालकों को फिसलन से राहत मिल सके। राजधानी में आईजीएमसी और कमला नेहरू अस्पताल में बर्फ जमीं रहती है। ये अस्पताल ऐसे स्थानों पर हैं जहां धूप बहुत कम लगती है और इस कारण वहां शाम के वक्त ही बर्फ जमने लगती है और सुबह देर से पिघलती है। ऐसे में इन अस्पतालों की ओर जाने वाले मार्ग पर जमीं बर्फ को हटाकर वहां रेत डाली जा रही है। इससे लोगों को जरूर राहत मिलेगी, क्योंकि वे अब पैदल आ जा सकते हैं। इसके अलावा संजौली-आईजीएमसी-लक्कड़ बाजार-रिज मार्ग, माल रोड से छोटा शिमला मार्ग पर भी रेत डाली जा रही है।

यह कार्य देर शाम से रातभर और सुबह तक किया गया। इससे आम लोगों और विशेषकर कर्मचारियों को राहत मिल रही है। क्योंकि सुबह बस सेवा जल्द शुरू न होने के कारण कामकाज के लिए उन्हें पैदल ही निकलना पड़ता है। उधर, नगर निगम के महापौर संजय चौहान ने कहा कि प्रशासन एंबुलेंस मार्गों और पैदल मार्गों पर रेत डाल रहा है। इससे पैदल चलने वालो लोगों को फिसलन से राहत मिलेगी । इसके अलावा छोटे वाहन भी नहीं फिसलेंगे। उनका कहना था कि शहर में अब स्थित सामान्य है और जिन इलाकों में पानी नहीं मिल रहा था। वह भी मिलना शुरू हो रहा है। कुछ इलाकों में बिजली सप्लाई न होने के कारण दिक्कत है, वह भी शाम तक ठीक हो जाएगी।

डीसी ने किया राहत कार्यों का निरीक्षण 

डीसी रोहन चंद ठाकुर ने शु्क्रवार सुबह  बर्फबारी से प्रभावित विभिन्न क्षेत्रों का निरीक्षण किया और महत्वपूर्ण व जरूरी मार्गों पर अपनी मौजूदगी में रेत डालने का कार्य करवाया। डीसी ने आईजीएमसी शिमला व अन्य अस्पतालों, संजौली, उच्च न्यायालय, ढली बाईपास व अन्य कई क्षेत्रों का दौरा किया और वहां राहत कार्यों का निरीक्षण किया।  ठाकुर ने सड़कों से बर्फ हटाने और फिसलन रोकने के लिए रेत डालने का कार्य में जुटे कामगारों से मौके पर मुलाकात की तथा उनकी सराहना भी की। जिला प्रशासन द्वारा बर्फबारी से प्रभावित क्षेत्रों में लोगों की हर संभव मदद करने के प्रयास किए जा रहे हैं। सभी तरह के राहत कार्यों की नियमित रूप से निगरानी और समीक्षा की जा रही है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है