Covid-19 Update

57,121
मामले (हिमाचल)
55,671
मरीज ठीक हुए
958
मौत
10,626,200
मामले (भारत)
98,095,813
मामले (दुनिया)

CM की दो टूकः Mall Road की शोभा बढ़ा रहे म्यूराल के पुनर्निर्माण में लापरवाही बर्दाश्त नहीं

CM की दो टूकः Mall Road की शोभा बढ़ा रहे म्यूराल के पुनर्निर्माण में लापरवाही बर्दाश्त नहीं

- Advertisement -

शिमला। मालरोड की दीवारों पर पिछले 35 साल से शोभा बढ़ा रहे म्यूराल को पुनर्निर्माण के नाम पर ध्वस्त किया जा रहा है। इस लापरवाही को लेकर आज शिमला के स्थानीय लोगों का एक प्रतिनिधिमंडल सीएम वीरभद्र सिंह से सचिवालय में मिला और उन्हें इस सब के बारे में विस्तार से जानकारी दी। सीएम वीरभद्र सिंह ने मामले में संज्ञान लेते हुए कहा कि किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी और गड़बड़ी करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही सीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिए की इस कार्य को मूल मूर्तिकार प्रो. एमसी सक्सेना के द्वारा ही किया जाए। बता दें कि ADB की फंडिंग से चल रहे सौन्दर्यीकरण में इन म्यूराल और म्यूराल का कार्य लोक निर्माण विभाग और नगर निगम प्रशासन ठेकेदार के माध्यम करवा रहा है। ऐसे अनाड़ी लोगों को काम सौंपा है, जिन्हें कला की कोई कद्र नहीं और न ही कभी उन्हें इस तरह का कार्य करने का तजुर्बा है।

  • सीएम वीरभद्र सिंह बोले, गड़बड़ी करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी
  • सीएम वीरभद्र सिंह ने दिए निर्देश … मूर्ति म्यूराल की मौलिकता को बनाए रखें

यह कार्य किसी से छुपा नहीं है माल रोड पर 3 स्थानों पर हिमाचली संस्कृति को दीवारों पर उकेर कर बनाए इन ऐतिहासिक म्यूराल पर सफेद सीमेंट या प्लास्टर ऑफ़ पेरिस चढ़ाया गया है, जबकि मूर्ति कला में कभी भी इन चीजों का इस्तेमाल नहीं होता। इस तरह की मूर्तिकला का पुनर्निर्माण उसी पदार्थ से किया जाता है, जिससे पूर्व में बनी हो।  इस बाबत मूर्ति म्यूराल के निर्माता कलाकार प्रो एमसी सक्सेना ने कहा कि चीफ आर्किटेक्ट, सचिव मोहन चौहान और सौन्दर्यीकरण के प्रमुख SE सोमदत्त शर्मा ने 2013 से लेकर उन्हें आश्वासन दिया था कि म्यूराल का पुनर्निर्माण उन्हीं से करवाया जाएगा। लेकिन, सर्दियों से बचने के लिए यूपी में कुछ समय बिताकर जब वे बीते सप्ताह शिमला पहुंचे तो यहां म्यूराल का कार्य किसी और के द्वारा किया जा रहा था।

जब वे कार्य देखने गए तो म्यूराल को दुर्दशा देखकर आंखों से आंसू निकल आए। उन्होंने शिमला की बेजान दीवारों पर हिमाचल की संस्कृति को दर्शाती नायाब कृतियां उकेरी थीं। कभी सोचा नहीं था कि उम्र के इस पड़ाव पर आकर उन्हें ऐसी दुर्दशा देखनी पड़ेगी। वहीं, सौन्दर्यीकरण कार्य के प्रभारी लोकनिर्माण विभाग के SE सोमदत्त शर्मा ने बताया कि कार्य ठेकेदार को सौंपा गया है। वे ही कार्य करवा रहे हैं। जब उन्हें बेकद्री की बात कही तो उन्होंने आश्वासन दिया कि वे कल अधिकारियों के साथ कार्य को लेकर बैठक करेंगे और प्रो सक्सेना को भी बैठक में आमंत्रित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सीएम के निर्देशों का पालन किया जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है