Expand

उठा पर्दा : पहले मारा फिर लुढ़काया, 4 Arrest

उठा पर्दा : पहले मारा फिर लुढ़काया, 4 Arrest

- Advertisement -

रामपुर।ननखड़ी के गांव बरौली के रहने वाले परवेश कुमार की हत्या पर से पर्दा उठ गया है। उसे चार लोगों ने मिलकर पहले मारा-पीटा फिर ढांक से नीचे लुढ़का दिया। उसी के चलते परवेश की मौत हुई। पुलिस ने इस संबंध में चार को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था, जिन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। इनमें दो नाबालिग है। जुर्म कबूल करते ही पुलिस ने इन चारों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। डीएसपी रामपुर सोमदत्त ने इन बातों की पुष्टि की है।

  • आरोपियों में दो नाबालिग,चारों ने कबूल किया जुर्म 
  • कार में ली थी लिफ्ट,बैठते ही शुरू हुआ झगड़ा
  • शराब के नशे में थे, कार सवार व लिफ्ट लेने वाले
  • लिफ्ट लेने वाला एक बचकर भाग निकला था

murderमामला कुछ इस तरह का है कि 18 नवंबर की रात जिस वक्त परवेश कुमार को मारपीट के बाद ढांक से नीचे लुढ़काया गया तो वह अकेला नहीं था, बल्कि उसके साथ उसका एक दोस्त सोहन लाल भी मौजूद था। वह भी ननखड़ी का ही रहने वाला है। यह दोनों शराब के नशे में ओल्ड बस स्टैंड के पास खडे़ थे, तभी दूसरी तरफ से एक मारूती कार को आता देख इन्होंने लिफ्ट ली। उस कार में पहले से ही चार युवक मौजूद थे। वह भी शराब के नशे में थे। कार में सवार होते ही पहले इनमें बहसबाजी फिर हाथापाई शुरू हो गई। करीब एक किलोमीटर जाने के बाद सफेद ढांक के पास कार को रोक दिया। कार रोकते ही सोहन लाल भाग खड़ा हुआ जबकि परवेश के साथ चारों युवकों ने मारपीट की और उसे ढांक से नीचे लुढ़का दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस के समक्ष यह बयान सोहन लाल ने भी दिया है।

police-2पुलिस ने इसके बाद जब आरोपियों को पकड़ने के लिए जाल बिछाया तो उन्हें उसी जगह से कुछ आगे एक होटल में कुछ फुटेज मिले, यहां चारों ने उसके बाद खाना खाया था। उसी आधार पर उन्हें पूछताछ के लिए पकड़ा गया, जिसके बाद उन्होंने सारी बातें उगल दी। आरोपियों में दो सराहन के रहने वाले हैं, एक टूटू तो एक कुमारसैन का रहने वाला है, जिनमें मुकेश सराहन तो देवेंद्र कुमारसैन का रहने वाला है। पुलिस अभी इनसे पूछताछ जारी रखे हुए है।

deadयाद रहे कि तीन दिन से लापता युवक परवेश कुमार का शव रविवार सुबह रामपुर के समीप सफेद ढांक से बरामद हुआ था। जब उसका शव बरामद हुआ तो परिजनों ने उसकी हत्या की आशंका जाहिर की थी। मृतक परवेश के चाचा पदम सिंह पुत्र दौलत राम, निवासी बरौली ने पुलिस के समक्ष जो बयान दिया है उसके अनुसार परवेश 17 नवंबर को रामपुर आया था, उसके बाद से ही वह लापता चल रहा था। पुलिस के समक्ष जो बयान पदम सिंह ने दर्ज करवाया है उसमें लिखवाया गया है कि ऐसा प्रतीत होता है कि 18 नवंबर की रात को परवेश के साथ पहले मारपीट की गई है उसके बाद उसे मारने की मंशा से ढांक से नीचे की तरफ लुढ़का दिया गया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है