Covid-19 Update

2,16,906
मामले (हिमाचल)
2,11,694
मरीज ठीक हुए
3,634
मौत
33,477,459
मामले (भारत)
229,144,868
मामले (दुनिया)

मां का शव लेने से बेटा-बेटी ने किया इनकार, मुस्लिम परिवार ने किया सिख महिला का अंतिम संस्कार

मां का शव लेने से बेटा-बेटी ने किया इनकार, मुस्लिम परिवार ने किया सिख महिला का अंतिम संस्कार

- Advertisement -

चंडीगढ़। देशभर में इस समय जहां हिंदू-मुस्लिम को बांटने के लिए दंगे फसाद हो रहे हैं वहीं हमारे देश में ऐसे भी लोग हैं जो इन सब से ऊपर उठकर आज भी इंसानियत को तरजीह देते हैं।
पंजाब के बठिंडा में ऐसे ही एक मुस्लिम परिवार (Muslim family) ने समाज के लिए मिसाल पेश की। दरअसल, महिला के परिवार ने शव लेने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद पड़ोस में रहने वाले मुस्लिम परिवार ने अंतिम संस्कार की सारी रस्में निभाई। मुस्लिम परिवार के इस कदम की लोग सराहना कर रहे हैं।

 

यह भी पढ़ें: 12वीं के Chemistry Practical के दौरान लैब में विस्फोट, चार छात्र घायल

मामला मलेरकोटला का है। दलप्रीत कौर नाम की महिला घरेलू सहायिका के तौर पर काम करती थी। बीते दिनों वह तीर्थयात्रा (Pilgrimage) के दौरान बीमार हो गई थी और सोमवार को उसकी मौत हो गई। मुस्लिम परिवार ने उनकी मौत (Death) के बाद मोबाइल से उनके बेटे और बेटी को फोन किया। फोन करने पर उन्हें पता चला कि दलप्रीत कौर का 1999 में तलाक हो चुका था, जिसके बाद वह यहीं अकेले रह रही थी। उनके ससुराल वाले संगरूर जिले के झुंडा गांव के रहने वाले बताए जा रहे हैं। उन्होंने बच्चों को दलप्रीत कौर के मरने की खबर दी तो परिवार ने यहां आने से इनकार कर दिया। इसके बाद पड़ोसी मुस्लिम परिवार ने सिख रीति-रिवाज के साथ दलप्रीत का अंतिम संस्कार किया। गुरुद्वारे में अब श्राद्ध की बाकी रस्में भी कराई जाएंगी।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है