Covid-19 Update

2,16,303
मामले (हिमाचल)
2,11,008
मरीज ठीक हुए
3,628
मौत
33,347,325
मामले (भारत)
227,342,315
मामले (दुनिया)

कोरोनाकाल में स्ट्रांग इम्यूनिटी के लिए जरूर खाएं ये देसी सुपरफूड

कोरोनाकाल में स्ट्रांग इम्यूनिटी के लिए जरूर खाएं ये देसी सुपरफूड

- Advertisement -

कोरोना का दौर है और लोग अपनी इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग करने के लिए तरह तरह की चीजों का इस्तेमाल कर रहे हैं।  हमारे आसपास या फिर  किचन में कई ऐसी चीजें मौजूद होती हैं जो आपकी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती हैष लेकिन हम उनका ज्यादातर इस्तामल नहीं कर पाते हैं। आजकल जब बात होती है सुपर फूड की तो हमारा मानना यह होता है कि सुपर फूड वो हैं जो आसानी से नहीं मिलता। पर हम आज आप को ऐसे सुपर फूड के बारे में बताएंगे जिन को आप अच्छी तरह से पहचानते हैं।

मखानाः उपवास के दौरान खाया जानेवाला मखाना यानी लोटस सीड्स अपने अंदर सेहत से जुड़े कई फ़ायदे समेटे हुए है।  लो फ़ैट, हाई प्रोटीन, आयरन, मैग्नीशियम, ज़िंक के चलते यह मस्तिष्क को शांत रखता है।   यह यूरिनरी ट्रैक्ट की समस्या को दूर करता है और ऐंटी-एजिंग गुणों से भी भरपूर है।

घीः भारतीय किचन का यह सबसे पसंदीदा सुपरफ़ूड है। नई पीढ़ी के लोग घी से परेहज करते हैं  पर सच तो यह है कि  घी हमारी इम्यूनिटी को बढ़ाता है। कहते हैं खानपान में नियमित रूप से घी शामिल करने से दिमाग़ तेज़ होता है और डाइजेशन सुधरता है. घी हड्डियों को मज़बूत बनाता है और कुछ टाइप के कैंसर के ख़तरे को कम करता है।

दहीः खानपान का सदियों से अहम् हिस्सा रहे दही के गुणों से भला कौन अनजान होगा।  जब आप नियमित रूप से दही खाते हैं तो शरीर के लिए आवश्यक कैल्शियम की 20% मात्रा की आपूर्ति यही कर देता है।  दही को डायट का हिस्सा बनाकर आप अपनी इम्यूनिटी बढ़ा सकते हैं।

जौः आजकल  यह अमीरों की डायट का अहम हिस्सा बन गया है. इसकी सबसे बड़ी वजह है इससे कोलेस्टेरॉल कम होने में मदद मिलती है और वज़न कम करने में भी।  जौ शरीर को डीटॉक्स करने में काफ़ी मददगार है। जौ का पानी वज़न घटाने के इच्छुक लोगों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। जौ में प्रोटीन, कैल्शियम और विटामिन ई की अच्छी मात्रा होती है, जो इसे एक सुपरफ़ूड की कैटेगरी में खड़ा करता है।

कटहलः इस  फल में कई मिनरल्स और विटामिन्स होते हैं।  यह कार्बोहाइड्रेट, विटामिन, प्रोटीन, फ़ाइबर, इलेक्ट्रोलाइट और फ़ायटोन्यूट्रिएंट्स का समृद्ध स्रोत है।  यह ग्लूकोज़ और फ्रक्टोज़ का भी अच्छा सोर्स है, जिसकी वजह से झटपट ऊर्जा देता । कोलेस्टेरॉल और वज़न कम करने के अपने ख़ास गुण के चलते आजकल यह ख़ूब लोकप्रिय हो रहा है।  यह शुगर को नियंत्रित रखता है और कोलोजन कैंसर की संभावना को कम करता है.

दलियाः  दलिया में प्रोटीन की अच्छी-ख़ासी मात्रा होती है और वहीं फ़ैट कम से कम होता है।  यही कारण है कि सुबह के नाश्ते के लिए यह एक बेहतरीन विकल्प है।  आपका वज़न बढ़ाए बिना दलिया आपको भरपूर पोषण देता है।  इसमें फ़ाइबर, मैंग्नीज और विटामिन बी की प्रचुर मात्रा होती है इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि इसे कई तरह के व्यंजन बनाए जा सकते हैं।  यानी जब इसे अपने रोज़ाना के खानपान में शामिल करेंगे तो आप दलिया खा-खाकर बोर भी नहीं होंगे.

हल्दीः  खानपान में सबसे अधिक इस्तेमाल किए जानेवाले मसालों में एक है. लगभग सभी भारतीय व्यंजनों में हल्दी डाली जाती है। आजकल इसकी लोकप्रियता भारत के बाहर भी पैर पसार चुकी है। इन दिनों दुनिया में टरमरिक लैटे की धूम मची हुई है, जो कुछ और नहीं हमारा हल्दी वाला दूध है।

आंवलाः यह सुपरफ़ूड सर्दी खांसी को तो दूर रखता ही है, साथ ही इम्यूनिटी बढ़ाने और मोटापा घटाने में भी बेहद कारगर है।  आंखों की रौशनी बढ़ाने के लिए आंवला खाने की सलाह दी जाती है। आयुर्वेद के अनुसार यह सुपरफ़ूड बालों, त्वचा और नाख़ूनों की सेहत के लिए बेहद फ़ायदेमंद है. नियमित रूप से आंवला जूस का सेवन करनेवालों का ब्लड शुगर नियंत्रण में बना रहता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है