Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,563,421
मामले (भारत)
230,985,679
मामले (दुनिया)

परिवार की होगी अपनी पहचान,घर बैठे ऐसे मिलेगा खुद-ब-खुदमिलेगा तमाम योजनाओं का लाभ

परिवार की होगी अपनी पहचान,घर बैठे ऐसे मिलेगा खुद-ब-खुदमिलेगा तमाम योजनाओं का लाभ

- Advertisement -

चंडीगढ़। परिवार की अपनी पहचान होगी, यही नहीं घर बैठे खुद-ब-खुद तमाम सरकारी योजनाओं का लाभ भी मिलेगा। हरियाणा (Haryana) पहला ऐसा प्रदेश बन गया है जहां सभी परिवारों को मेरा परिवार-मेरी पहचान योजना के तहत परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) बनाकर दिए जा रहे हैं। अगस्त के अंत तक 20 लाख परिवारों को स्मार्ट कार्ड (Smart Card) बनाकर सौंप दिए जाएंगे। तीन महीने बाद किसी भी सरकारी योजना का लाभ उठाने के लिए परिवार पहचान पत्र (Parivar Pehchan Patra) अनिवार्य होगा। हरियाणा के सीएम मनोहर लाल (Manohar Lal Khattar) ने इस योजना का शुभारंभ किया है। इसका फायदा यह कि लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए सरकारी दफ्तरों में नहीं जाना पड़ेगाए बल्कि सरकार उनके पास खुद आएगी। परिवार का कोई भी सदस्य 18 साल का होते ही फोन पर मैसेज आएगा कि उसका मतदाता पहचान पत्र बन गया है। सिर्फ औपचारिकताएं पूरी करनी होंगी। 60 साल की उम्र होते ही अपने आप बुढ़ापा पेंशन शुरू हो जाएगी। मौजूदा समय में पेंशन बनवाने के लिए महीनों धक्के खाने पड़ते हैं। इसी तरह छात्रवृत्तिए सब्सिडी सहित अन्य योजनाओं का लाभ लेने के लिए आवेदन करने की जरूरत नहीं होगी।

यह भी पढ़ें: सभी परिवारों को मेरा परिवार-मेरी पहचान योजना के तहत परिवार पहचान पत्र हो रहे जारी

ये है रजिस्ट्रेशन करवाने का तरीका

परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए सभी राशन डिपोए गैस एजेंसीए सरकारी स्कूलोंए तहसील कार्यालयोंए खंड विकास कार्यालयए अटल सेवा केंद्रों और सरल सेंटर में फार्म मुफ्त लिए जा सकते हैं। फार्म में अपनी और परिवार के सभी सदस्यों की जानकारी भरें और जरूरी कागज लगाकर जमा कर दें। संबंधित अधिकारी फार्म की जांच पड़ताल करेंगे। सब कुछ सही मिलने पर आवेदक को स्मार्ट कार्ड के रूप में आठ अंकों की आईडी वाला परिवार पहचान पत्र मिल जाएगा। परिवार के मुखिया का नाम सबसे ऊपर होगाए जबकि बाकी के सदस्यों की जानकारी नीचे दी गई होगी। आवेदक सभी प्रक्रिया पूरी होने के बाद अपना स्टेटस या अपने आवेदन की स्थिति आधिकारिक पोर्टल या सरल सेवा केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर भी देख सकते हैं। रजिस्ट्रेशन के समय मिला आइडी नंबर और पासवर्ड डालकर लॉग इन करने के बाद परिवार की पूरी जानकारी स्क्रीन पर दिखाई देगी।

ये-ये दस्तावेज चाहिए

1- मोबाइल नंबर

2- आधार कार्ड

3- राशन कार्ड

बनते ही ये फायदे होंगे

स्मार्ट कार्ड बनते ही सरकारी योजनाओं में फर्जीवाड़ा थम जाएगा। सरकार के पास पूरा रिकॉर्ड रहेगा कि किस व्यक्ति को किस योजना का लाभ मिल रहा है और किसे नहीं मिल रहा है। बुढ़ापा पेंशन सहित तमाम पेंशन परिवार पहचान पत्र के जरिए मिलेंगी। योजनाओं का लाभ लोगों को उनके घर पर ही मिल जाएगा। सरकार को पता रहेगा कि परिवार किस क्षेत्र में रहता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है